ये रिश्ता क्या कहलाता है – सीरियल एपिसोड आज का – 29 अक्टूबर 2019

ये रिश्ता क्या कहलाता है सीरियल एपिसोड आज का में आज सब देखेंगे कि कैसे दादी कायर्व को जैसे ही मंदिर में लेकर जाते हैं तभी कायर्व अपने आपको नल से भिगो लेता है तभी वहां पर दादी आती है और कायर्व को बिकते हुए देखती है तभी वह चौक जाते हैं और कहते हैं कि तुम भी चुके हो लगता है ऐसा ना हो कि तुम्हें बुखार आ जाए मैं घर जाकर तुम्हें काढ़ा पिला दूंगी कायर्व जैसे ही घर पर पहुंचता है तभी नायरा कायर्व को बेड पर सुला देती है और उसकी देखभाल करने लगती है।

कार्तिक नायरा की बर्थडे की तैयारी कर रहा होता है तभी कार्तिक घर के डेकोरेशन के लिए डिसाइड कर रहा होता है तभी वह कहता है कि मुझे आम डेकोरेशन नहीं चाहिए बल्कि कोई खास डेकोरेशन चाहिए तभी डेकोरेशन करने वाला कहता है कि सर जी आजकल चल रहा है तभी कार्तिक करते कहता है कि नहीं मुझे यह नहीं चाहिए मुझे ऐसा कुछ चाहिए जो आज तक किसी ने देखा ना हो मेरा बेटा जब उस पार्टी को देखे तो ऐसा कहे कि मेरे पापा सबसे अच्छे हैं।

कार्तिक के पिता कहते हैं कि यहां हां तुम ही तो पहली बार पापा बने हो कोई और तो पापा है ही नहीं कार्तिक अपने पिता के पास आता है और कहता है कि नहीं पापा मैं बस इस दिन को बहुत ही ज्यादा खास बनाना चाहता हूं क्योंकि मेरा बेटा जब जहां इसे डेकोरेशन को देखे तो वह बहुत ही ज्यादा खुश हो जाए गायु और समर्थ जब आप आ रहे होते हैं तभी गायों सारे परिवार को देखकर समर्थ कुछ कहने वाले होते हैं तभी समर्थ गायु उसे कहता है कि अब तुम शुरू मत हो जाना गायों कहती है कि क्यों शुरू ना हो जाऊं तुम जैसे मेरे बच्चे से बर्ताव करते हो मैं अच्छी तरीके से जानती हूं कि तुम ऐसा क्यों करते हो क्योंकि वह तुम्हारा बेटा नहीं है ।

Also Readये रिश्ता क्या कहलाता है – 29 अक्टूबर 2019 – सीरियल एपिसोड आज का

समर्थ और गायु सारे परिवार के पास आकर खड़े हो जाते हैं तभी कार्तिक समर्थ से कहता है कि मुझे और भी बहुत सारी तैयारियां करनी है मैं चलता हूं नायरा कायर्व के लिए गिफ्ट जब तैयार कर रही होती है तभी वह कहती है कि यह गिफ्ट कार्ड के लिए है क्या मेरा गिफ्ट देना कार्तिक को सही रहेगा तब उसे वेदिका की बातें याद आने लगती है तभी वह अपने आप को रोक लेती हो और कहती है कि नहीं मैं कार्तिक को गिफ्ट नहीं दूंगी इसके बाद नायरा जैसे उस गिफ्ट को कबड्डी में रखने के लिए जाती है तभी वहां पर एक मैगजीन में लिखा होता है कि गिफ्ट देना चाहिए इसके बाद नायरा उस गिफ्ट को देने के लिए राजी हो जाती है और कहती है कि मैं बर्थडे के दिन कार्तिक को गिफ्ट तो दे ही सकती हूं।

कार्तिक अपने घर में डेकोरेशन को देखकर बहुत ही ज्यादा खुश होने लगता है और कहता है कि मैं आज बहुत ज्यादा खुश हूं तभी सारे घर वाले और कार्तिक मिलकर कायर्व को विश करने के लिए उसके घर पर चले जाते हैं तभी नक्शा दरवाजे को चुपचाप खोल देता है तभी सारे घर वाले अंदर आ जाते हैं तभी कार्तिक वहां पर नायरा को आते हुए देखता है और के सबसे कहता है कि नायरा और रामा चुके हैं इसके बाद सारे घर वाले कायर्व को जन्मदिन की बधाई देना शुरू कर देते हैं तभी नायरा वहां पर अकेले ही आती है सभी लोग नायरा को अकेले देखकर परेशान हो जाते हैं।

कार्तिक सैड हो जाता है और नायरा से कायर्व के बारे में पूछता है नायरा कहती है कि कायर्व सो गया है मैंने उसे बहुत उठाने की कोशिश की लेकिन वह उठी नहीं रहा है अपनी आंखें खोलता है फिर से वह बंद कर लेता है मैंने उसे उठाने की काफी कोशिश की है और वैसे भी उसे बुखार आ रहा है तभी दादी बताती है कि मैं कार्तिक कायर्व को लेकर मंदिर गई थी यह तो वहां पर कायर्व पानी से भीग गया था जिसकी वजह से उसे बुखार आ गया सब हमारी ही गलती है तभी सारे घर वाले कहते हैं कि आपकी कोई गलती नहीं है वह तो बच्चा है।

नायरा कार्तिक को परेशान देखती है और उससे कहती है कि मैं एक और बाहर कायर्व को उठाने की कोशिश कर लेती हूं कार्तिक नायरा को रोक लेता है और कहता है कि नहीं इसकी कोई जरूरत नहीं है उसे सोने दो कार्तिक सारे घरवालों को चलने के लिए बोल देता है तभी नायरा कार्तिक से कहती है कि एक ही का बर्थडे तो नहीं है बल्कि दूसरे का बर्थडे है एक का नहीं सेलिब्रेट कर सकते तो क्या हुआ लेकिन दूसरे को जन्मदिन की बधाई तो दे ही सकते हैं तभी सारे घर वाले कार्ड के बारे में सोचते हैं और कहते हैं कि हम तो भूल ही गए थे कि कार्तिक का भी आज बर्थडे है तभी सारे घर वाले को बधाई देना शुरू कर देते हैं।

नायरा कार्तिक को जन्मदिन की बधाई दे रही होती है तभी कार्तिक होती है तो खुश हो जाता है नायरा कार्तिक से कहती है कि मैं सुबह होते ही कायर्व को घर तुम्हारे ले आऊंगा और पूरा दिन तुम कायर्व के साथ ही रहना कार्तिक जी यह बात सुनकर खुश हो जाता है और नायरा से कहता है कि सुबह होते ही तुम कायर्व को मेरे घर ले आना और घर पर नाश्ता भी मत करना हमारे घर आकर ही कायर्व नाश्ता करेगा तभी सारे घर वाले वहां से चले जाते हैं सुबह होते कार्तिक घर में हल्ला मचाना शुरू कर देता है और सारे ना करो से कहता है कि अभी तक यह डेकोरेशन खत्म ही नहीं हो पाई है।

कार्तिक की मां कार्तिक के पास आती है और उससे कहती है कि मैं तुमसे कुछ कहना चाहती हूं आज तुम्हारे बेटे का बर्थडे है तो मेरे बेटा का भी बर्थडे है 1 मिनट के लिए मेरे कमरे में आ जाना कार्तिक कहता है कि आज किसी और के बेटे का बर्थडे कि कोई बात नहीं होगी आज सिर्फ मेरे बेटे का ही बर्थडे की ही बातें होंगी नायरा कायर्व के पास जाते हैं और उसे उठाती हो और उसे जन्मदिन की बधाई भी देती है और पूरे घर को बलून से सजा देती है तभी कायर्व उठता है और नायरा से कहता है कि मां आप हमेशा ऐसे ही घर को बलून से सजा देती है नायरा कहती है कि नहीं मैंने फूल भी तुम्हारे लिए मंगवाए हैं और तुम्हारे लिए गिफ्ट भी मंगाए हैं इसके बाद नायरा कायर्व को गिफ्ट दे देती है।

नायरा इसके बाद कायर्व से कहती है कि तुम जल्दी से तैयार हो जाओ हमें पापा के घर जाना है वह भी तुम्हारा इंतजार कर रहे होंगे यह बात सुनकर कायर्व फिर से सो जाता है और कहता है कि नहीं मां मुझे बहुत तेज नींद आ रही है मैं सो रहा हूं तभी वहां पर घरवाले आ जाते हैं और कायर्व को उठाने की जिद करते हैं और उसे आने देने लगते हैं लेकिन कायर्व उठने का नाम ही नहीं लेता दादी कहती है कि नायरा तुम कार्तिक से कह दो कि थोड़ी देर लग जाएगी घर पहुंचने में वह तुम्हारा इंतजार कर रहा होगा नायरा कहती है कि मैं कार्तिक को बताते देती हूं लेकिन वह परेशान हो जाएगा और वह गुस्सा भी होने लगेगा यह बात सुनकर कहता है कि मैं चला जाता हूं नहीं तो पापा मां को गुस्सा करेंगे कायर्व जाने के लिए राजी हो जाता है।

नायरा आईने के सामने जब तैयार हो रही होती है और ड्रेस को निकाल निकाल कर देख रही होती है कि आखिर वह पार्टी में क्या पहने तभी उसे वेदिका का ख्याल आता है और वह कहती है कि नायरा तू यह क्या कर रही है गिफ्ट देने तक तो सही था लेकिन अब और उससे ज्यादा कुछ नहीं तू बस यह मत भूलना कभी भी आज कायर्व के पापा का बर्थडे है तेरे कार्तिक का नही।

Add Comment