ये रिश्ता क्या कहलाता है – 25 अक्टूबर 2019 – आज का एपिसोड

ये रिश्ता क्या कहलाता है के आज के एपिसोड में आप सब देखेंगे कि कैसे कार्तिक और नायरा जब रावण के पुतले को सजा रहे होते हैं तभी वहां पर कायर्व और वंश आ जाते हैं कार्तिक उन दोनों से कहता है कि रावण को जलाने का वक्त हो चुका है हम रावण जलाने के लिए चलते हैं मैं यहां पर रावण को उठाने के लिए और लोगों को बुला लेता हूं|

कार्तिक जन्म कायर्व की तरफ देखता है और उससे कहता है कि क्या हुआ कायर्व कहता है कि हम दोनों नहीं आ रहे हैं हम दोनों को कुछ काम है इसके बाद कायर्व और वंश वहां से इतना कह कर चले जाते हैं कार्तिक यह सब देख कर चौक जाता है और नायरा से कहता है कि आखिर ऐसी हुआ क्या है नायरा कार्तिक से कहती है कि कुछ नहीं हुआ होगा वह बच्चे हैं उनके मन में जरूर कोई ना कोई बात होगी जिसकी वजह से वैसे ऐसे रिएक्टर कर रहा है|

कार्तिक कहता है कि ऐसा तो नहीं कोई बात वह कायर्व आपके मन में नायरा कार्तिक से कहती है कि ऐसा कुछ भी नहीं है तुम नक्श भैया के बारे में सोच रहे हो जो भी उन्होंने तुमसे कहा कार्तिक कहता है कि ऐसा नहीं है बस मुझे कायर्व का बर्ताव कुछ समझ में नहीं आया नायरा कहती है कि कुछ तुम ज्यादा ही सोच रहे हो ऐसा कुछ भी नहीं है यह बच्चों की बीच की बात होगी इतने में वहां पर नक्शा जाता है और कार्तिक से अपनी गलती की माफी मांगता है और वहां से चला जाता है|

नायरा कार्तिक से कहती है कि सब सब कुछ भूलकर आगे बढ़ने की कोशिश कर रहे हैं तो हमें भी यही करना चाहिए और आगे बढ़ना चाहिए और वेदिका जब अपने घर में होती है कहती है कि मुझे घर वालों को अब यह सारी बातें बता देनी चाहिए लेकिन मैं नहीं सारी बातें कैसे बताऊं मैं काम करती हूं मैं यहां से चली जाती हूं वेरी गजब अपने कपड़ों को पैक कर रही होती है तभी वहां पर एक गिफ्ट दिखाई दे जाता है|

वेदिका कहती है कि कार्तिक का बर्थडे आने वाला है मैं ऐसे कैसे जा सकती हूं फिर वेदिका अपने परेशानी के बारे में सोचती है और कहती है कि पहले सबसे ज्यादा जरूरी यही है मैं यहां से चली जाती हूं वेदिका अपने सामान को लेकर वहां से निकलती है और गाड़ी में बैठ जाती है और ड्राइवर से चलने के लिए बोल देती है ड्राइवर वेदिका को सुनसान रास्ते पर लेकर जाता है वेदिका गाड़ी को रोकने के लिए बोल देती है और उससे कहती है कि अब तुम घर चले जाओ लाइवर कहता है कि यहां पर तो ऐसा कुछ भी नहीं है पर मैडम जा खा रही हैं|

सारे घर वाले रावण दहन के लिए इकट्ठे होते हैं तभी दादी लिरिका के बारे में पूछती है कि आखिर वेदिका अभी तक यहां पर क्यों नहीं पहुंची तभी कार्तिक की मां कहती है कि मैंने वेदिका से कहा था हमारे साथ चलने के लिए लेकिन उसे जरूरी काम था इसलिए वह हमारी संग नहीं आ पाई गायु इतने में कहती है कि ऐसा तो नहीं दीदी का जान पूछ कर जहां पर नहीं आई और उसने बाना लगाया कि उसे यहां आना ना पड़े तभी कार्तिक के पिता कहते हैं कि मुहूर्त का टाइम हो चुका है या तो हम वेदिका का वेट कर सकते हैं या फिर मूरत के समय ही| रावण को जला सकती हैं|

दादी कहती है कि रावण को जलाने के लिए कौन आगे आएगा कायर्व कहता है कि वंश भैया ही इस रावण को जलाएंगे क्योंकि वह राम बने हैं सारे घर वाले यह बात सुनकर खुश हो जाते हैं कायर्व वन से कान में कह रहा होता है कि आपको कोई आईडिया समझ में आया कि आखिर मुझे क्या करना चाहिए मैं कैसे गोवा जाने से रोको वंश कहता है कि मुझे अभी तक कुछ समझ में नहीं आया है कार्तिक वंश और कायर्व को जब खुसरूपुर करते हुए देखता है तभी वह नायरा से कहता है कि तुम शायद ठीक ही कह रही थी बच्चों के बीच में कुछ तो चल रहा है|

Also Read – ये रिश्ता क्या कहलाता है – 24 अक्टूबर 2019 – आज का एपिसोड

वंश को लेकर रावण के आगे खड़ा हो जाता है कायर्व को ख्याल आता है कि वह उस रावण के पीछे जाकर छुप जाएगा उसे चोट लगेगी तो क्या हुआ है लेकिन वह गोवा नहीं जा पाएगा दादी सारे घरवालों से कहती है कि इस रावण के जलने से पहले हमें अपने अंदर की सारी बुराइयों को याद करके इस रावण के साथ जला देना चाहिए सारे घर वाले अपने हाथ जोड़कर और आंखें बंद करके खड़े हो जाते हैं तभी कायर्व उस रावण के पीछे जाकर छुप जाता है|

सारे घर वाले जब अपनी आंखें खोलते हैं और वंश से उस रावण को जलाने के लिए बोल देते हैं कभी कार्तिक कहता है कि कायर्व कहां पर है घरवाले वंश से तीर को चलाने के लिए जब मना कर देते हैं तभी वंश कहता है कि मैं तीर को नहीं रोक सकता मुझे बहुत ही ज्यादा डर लग रहा है वंश इतने माउस तीर को रावण के ऊपर छोड़ देता है जिससे रावण में आग लगने लगती हैं इतने में नायरा और कार्तिक की नजर रावण के पीछे पड़ जाती है और वहां पर कायर्व को देख लेती है और भागते हुए कार्तिक और नायरा कायर्व के पास जाते हैं और उसे अपनी तरफ खींच लेते हैं तभी कार्तिक उस रावण को नीचे गिरता हुआ देता है और उसे पकड़ लेता है नायरा दूसरी तरफ कायर्व को लेकर गिर जाती है|

कार्तिक दूसरी तरफ गिर जाता है और वह बहुत ही ज्यादा डरा हुआ होता है नायरा कायर्व को संभालने लगती है और कार्तिक से पूछती है कि क्या कार्तिक तुम ठीक हो तभी कार्तिक कहता है कि मैं ठीक हूं कायर्व तो ठीक है नायरा कहती है कि कायर्व यहां पर बिल्कुल ठीक है तभी वहां पर सारे घर वाले आ जाते हैं नायरा कायरों को संभाले लगती है और उससे पूछती है कि आखिर तुमने ऐसा क्यों किया इतने में कार्तिक वहां पर गुस्से में आ जाता है और कायर्व को डांटने लगता है कि आखिर तुमने यह क्यों किया यह कोई मजाक है अभी अगर तुम्हें कुछ हो जाता तो तभी कायर्व बहुत ही बुरी तरह से डर जाता है और नायरा की गले लग जाता है|

नायरा कायर्व को जब संभाल रही होती है तभी कायर्व वहां से डर कर भाग जाता है नायरा कार्तिक से कहती है कि मैं इसे संभाल लूंगी अभी वह तुमसे डरा हुआ है नायरा कायर्व के पास वहां से चली जाती है कार्तिक बहुत ही बुरी तरह से डर जाता है और रोने लगता है और कहता है कि अगर मेरे बेटे को कुछ हो जाता तो मैं तो मर ही जाता वैसे भी मैं हर दिन डरता ही रहता हूं कि नायरा कभी कायर को अगर मुझसे दूर ले गई तो मैं कैसे रह पाऊंगा अपने बच्चे के बगैर इतना कहकर कार्तिक रोने लगता है तभी सारे घर वाले कार्तिक को सामाले लगते हैं और कहते हैं कि वह बच्चा है|

नायरा कायर्व पूजा कमरे में चुप करा रही होती है कायर्व बुरी तरह से रोने लगता है और नायरा से कहता है कि पापा ने मुझे डांटा नायरा कायर्व को समझाती है कि तुम्हारे पापा तुम्हें डांट नहीं रहे थे बल्कि समझा रहे थे कि तुमने यह सब क्यों किया उन्होंने तुम्हें डाटा नहीं था बस हम जा रहे थे तभी कायर्व एक भी नहीं सुनता और अपनी मां से कहता है कि नहीं पापा ने मुझे डांटा था और रोने लगता है तभी कार्तिक की मां कहती है कि नायरा बच्चा है अभी वह बात को नहीं समझेगा बाद में तुम उसे समझाना तो कुछ समझ जाएगा|

कार्तिक कमरे में जैसे ही आता है कायर्व उसे देखकर फिर से डर जाता है और रोने लगता है नायरा कार्तिक को वहां से इशारों में जाने के लिए बोल देती है थोड़ी देर के बाद कायर्व सो जाता है कार्तिक जैसे ही वहां पर आता है तभी नायरा कार्तिक से कहती है कि तुम चिंता मत करो सुबह तक कायर्व सब कुछ भूल जाएगा जब गोवा में कायर्व को अगर मैं कुछ भी कह देती तो वह मुझसे नाराज हो जाता और सुबह होते ही सारी बातों को भूल जाता बच्चे ऐसे ही होते हैं तुम सुबह नाम के लिए कुछ खिलौने ले आना देखना कायर्व सुबह होते ही सब कुछ भूल जाएगा और तुम्हें अपनी और कायर्व के बर्थडे की भी तैयारियां करनी है|

Add Comment