Kasauti Zindagi Ki – Written Update – 26 December 2019

Kasauti Zindagi Ki Written Update 26 december 2019 Episode में आप सब देखेगी कैसे हैं मेरी काजल तलाक के कागज घर के बाहर फेंक कर जाती है वह नायरा के हाथ लग जाते हैं नायरा कहती है कि मुझे जल्द से जल्द यह पेपर वहां पर पहुंचाने होंगे कार्तिक को मुझे यह पेपर दे नहीं होंगे इसलिए मुझे खुद ही पेपर को देने के लिए जाना होगा नायरा गाड़ी को लेकर वहां से कार्तिक के पीछे निकल जाती है कार्तिक और वेदिका कोट के लिए जा रहे होते हैं कार्तिक बार-बार अपना टाइम को देखने लगता है और कहता है कि काफी ज्यादा टाइम हो चुका है मुझे तेजी से गाड़ी चलानी होगी इतनी देर में अचानक रास्ते में एक गुरुद्वारा आ जाता है वेदिका गाड़ी को रुकवा दी है और कार्तिक से कहती है कि कार्तिक 1 मिनट रुक जाओ मैं अभी थोड़ी देर में आती हूं कार्तिक वेदिका से कहता है कि मुझे काफी ज्यादा टाइम हो चुका है हमें जल्दी से जल्दी पहुंचना होगा वरना हम टाइम पर नहीं पहुंच पाएंगे वेदिका कार्तिक से कहती है कि बस मैं 1 मिनट में आ जाऊंगी तुम चिंता मत करो वेदिका गाड़ी से उतर जाती है

Advertisement

Also Read – Kasauti Zindagi Ki 26 December 2019 Latest News

Advertisement

और मंदिर के अंदर चली जाती है और मंदिर के आगे कहती है कि भगवान मुझे माफ कर देना जो मैं भी कर रही हूं लेकिन आप ही बताइए कि आखिर मेरी गलती क्या है मैंने तो कभी भी किसी के साथ गलत नहीं किया आखिर मेरे साथ गलत हो क्यों रहा है मेरे पास तो कार्तिक और कार्तिक के परिवार के सिवा कोई भी नहीं है अगर मैंने कार्तिक को डिवोर्स दे दिया तो सब कुछ मेरे साथ से चला जाएगा और मैं यह नहीं चाहती इसलिए मुझे यह सब करना पड़ रहा है मुझे माफ कर देना कार्तिक काफी देर से गाड़ी में इंतजार कर रहा होता है लेकिन जब वेदिका नहीं आती तभी कार्तिक गाड़ी से उतरता है और कहता है कि मुझे वेदिका को जाने ही नहीं देना चाहिए था तभी कार्तिक अंदर वेदिका को जब ढूंढ रहा होता है तभी अचानक वेदिका कार्तिक वहां पर देख लेती है और वहां से कहीं और जाकर छुप जाती है।

नायरा कार्तिक के पीछे कोर्ट जा रही होती है तभी अचानक उसे कार्तिक की गाड़ी मंदिर के आगे दिखाई दे जाती है नायरा कहती है कि यह तो कार्तिक की गाड़ी है इतनी देर में नायरा को अपनी गाड़ी के शीशे में कार्तिक दिखाई दे जाता है नायरा अपनी गाड़ी से उतरती है और कार्तिक को मिलने के लिए वहां पर चली जाती है लेकिन कार्तिक इतनी देर में वहां से गायब हो जाता है नायरा कार्तिक को इधर-उधर ढूंढने लगती है नायरा के घर वालों को जब यह बात पता लगती है कि नायरा गाड़ी में कहीं बाहर चली गई है तभी बहुत ही अगर परेशान होते हैं तभी दादी कहती है कि कहीं ऐसा तो नहीं नायरा कार्तिक से मिलने के लिए गई हो कोर्ट नक्शा कहता है कि आखिर नायरा वहां पर गई क्यों है दादी कहती है कि जरूर कोई ना कोई काम होगा इसलिए नायरा वहां पर गई है कार्तिक के परिवार वाले भी बहुत ही अलग परेशान होते हैं क्योंकि कार्तिक की दादी वकील के पास फोन कर कर पूछती है कि कार्तिक वहां पर पहुंचा या नहीं अभी वकील दादी को बताते हैं कि यहां पर अभी तक कार्तिक और वेदिका नहीं पहुंच पाई है दादी इस बात को लेकर बहुत ही ज्यादा परेशान हो जाती है और बाबर सारे घर वालों को इकट्ठा कर लेती है और कार्तिक के पिता को डांटे नहीं लगती है कि तुमने मुझसे झूठ बोला था कार्तिक अभी तक कोर्ट पहुंचा ही नहीं तभी सारे घर वाले और भी ज्यादा परेशान हो जाते हैं कार्तिकेय पिता दादी से माफी मांगते हैं और उन्हें बताती है कि मैंने आपसे इसलिए झूठ बोला था क्योंकि आप बहुत ज्यादा डरी हुई थी लेकिन वह अब वहां से निकल चुके हैं और वह टाइम पर पहुंच जाएंगे 9:30 बजे तक काफी टाइम इंतजार करने के बाद दादी और सारे घरवालों को आखिरकार जी पता लग जाता है कि कार्तिक और वेदिका के पीछे नायरा भी गई है यह बात सुनकर सारे घर वाले और भी ज्यादा परेशान होने लगते हैं कि आखिर नायरा उन दोनों के पीछे गई क्यों है।

Advertisement

नायरा मंदिर में जैसे कार्तिक को देखती है उसे देखकर उसे आवाज लगाती है कार्तिक और नायरा एक दूसरे की तरफ बढ़ने लगते हैं अचानक नायरा और कार्तिक एक ऐसी जगह पर आकर खड़े हो जाते हैं उस जगह पर ऊपर कुछ दीवार बनने का काम हो रहा होता है जिसकी वजह से नायरा और कार्तिक के ऊपर काफी ज्यादा ईट ए गिरने लगती है यह सब वेदिका खड़े होकर देख रही होती है नायरा और कार्तिक के नीचे दब जाते हैं यदि कहां पर आती है और सारे लोगों से हर मांगने लगती है कि कोई मेरी हेल्प करो कार्तिक और नायरा को निकालने के लिए सारे लोग वेदिका की हेल्प करने लगते हैं और नायरा और कार्तिक को वहां से निकाल लेते हैं कार्तिक होश में आ जाता है और नायरा को उठाने की कोशिश करता है लेकिन नायरा के पेट में चोट लग जाती है जिसकी वजह से नायरा के पेट में से खून आने लगता है कार्तिक और भी ज्यादा डर जाता है और कार नायरा को उठाकर वहां से हॉस्पिटल ले जाने के लिए निकल जाता है सारे घर वालों के पास यह खबर आ जाती है कि नायरा और वेदिका और कार्तिक कोर्ट में नहीं पहुंचे हैं जिसकी वजह से कार्तिक और वेदिका का तलाक नहीं हो पाया है दादी बुरी तरह से रोने लगती है और कहती है कि मैंने तो पहले ही कहा था कि मुझे जाने दो मैं सब कुछ टाइम पर कर देती लेकिन किसी ने मेरी बात नहीं सुनी अब देखो वेदिका और कार्तिक का डिवोर्स नहीं हो पाया है अब कार्तिक और नायरा की शादी नहीं हो पाएगी आखिर यह तीनों गए कहां है थोड़ी देर के बाद कार्तिक कार्तिक को फोन लगाने लगते हैं दिखा जाओ वहां पर फोन को आते हुए देखती है तभी वह फोन को उठा लेती है और कार्तिक के पिता कहते हैं कि आखिर तुम तीनों हो कहां तभी वेदिका बताती है कि नायरा और कार्तिक का एक्सीडेंट हो गया था ना बुरी तरह से घायल हो चुकी है हॉस्पिटल लेकर जा रहे हैं आप हॉस्पिटल आ जाइए यह बात सुनकर सारे परिवार वाले घबराने लगते हैं।

कार्तिक वेदिका नायरा को लेकर जैसे ही हॉस्पिटल में पहुंचते हैं वहां पर कार्तिक डॉक्टर को बुलाने की बात करता है लेकिन कोई भी कार्तिक की नहीं सुनता और कार्तिक से एक नर्स कहती है कि अभी डरा रहे हैं कार्तिक वहां पर चिल्लाने लगता है वेदिका उसे संभालती है और कार्तिक से कहती है कि कार्तिक इतना मत चिल्लाओ सब कुछ ठीक हो जाएगा नायरा को कुछ भी नहीं होगा यहां पर कार्तिक और भी ज्यादा गुस्सा करने लगता है वेदिका से कहता है कि तुम अभी मुझे कुछ भी राय मत दो यहां पर डॉक्टर को बुलाओ नायरा की इस हालत को देखकर वेदिका भी घबराने लगती है और वहां पर डॉक्टर को बुला लेती है तभी वहां पर डॉक्टर पल्लवी आ जाती है और नायरा की हालत को देखकर कहती है कि आखिर यह सब हुआ कैसे हैं और इमरजेंसी के लिए डायरा को भर्ती कर दिया जाता है कार्तिक नायरा के संग रहने की जिद करता है लेकिन डॉ पल्लवी कार्तिक से कहती है कि तुम यहीं पर रहकर इंतजार करो हमें अपना काम करने दो लेकिन कार्तिक डॉक्टर पल्लवी की बात मानने से इनकार कर देता है लेकिन डॉक्टर पल्लवी कार्तिक कि एक भी नहीं सुनती और नायरा के इलाज करने के लिए अंदर चली जाती है।

Advertisement