Kasauti Zindagi Ki – Written Update – 21 November 2019 in Hindi

Kasauti Zindagi Ki Written Update 21 November 2019 एपिसोड में आप सब देखेंगे कि कैसे सोनालिका की सच्चाई शिवानी के सामने आ ही जाती है शिवानी सोनालिका की सच्चाई को देख कर चौक जाती है और फैसला कर दी है कि वह सोनालिका की सच्चाई सारे घरवालों और अनुराग को बता कर ही रहेगी आइए देखते हैं कैसे सोनालिका की सच्चाई आखिरकार शिवानी के सामने आती कैसे हैं प्रेरणा जैसे ही अपना एक कदम आगे बढ़ाती है तभी सोनालिका अपने पैर को प्रेरणा के पैरों में फंसा देती है जिसकी वजह से प्रेरणा नीचे गिरने वाली होती है लेकिन अनुराग प्रेरणा को बचा लेता है और उसे डांटने लगता है और उससे कहता है कि तुम्हें अपना ख्याल रखना चाहिए तुम इतनी लापरवाह कैसे हो सकती हो ।

सोनालिका अनुराग से कहती है कि वह गलती मेरी थी मैं फोन लेने के लिए जा रही थी लेकिन इतनी देर में अनुराग सोनालिका की बात काट देता है और प्रेरणा को और भी ज्यादा डांटने लगता है कि लेकिन तुम्हें तो अपना ख्याल रखना ही चाहिए था तुम प्रेग्नेंट हो और तुम्हें अपने बच्चे का बिल्कुल ख्याल नहीं है तुम अभी घर जाओगी और आराम करोगी प्रेरणा को अनुराग घर जाने के लिए बोल देता है प्रेरणा वहां से इतना सुन कर चली जाती है सोनाली का यह सब देख कर बहुत ज्यादा परेशान होती है कि अनुराग प्रेरणा के बच्चे के लिए इतनी फिक्र कर रहा है प्रेरणा अपने घर पर जाकर आराम कर रही होती है इतनी देर में अनुराग का फोन प्रेरणा के पास आ जाता है ।

अनुराग प्रेरणा से माफी मांगता है कि जिस तरह से मैंने तुमसे बात की मुझे नहीं करनी चाहिए थी मैं जानता हूं कि तुम अपने बच्चे का ख्याल मुझसे भी अच्छा रख सकती हूं लेकिन यह सही है कि जब भी तुम वहां पर होती हो तो मुझे ऐसा लगता है कि तुम्हारे और तुम्हारे बच्चे की जिम्मेदारी मेरी है लेकिन जब तुम घर पर जाती हो तो तुम्हें अपने बच्चे का ख्याल रखना ही होगा लेकिन मैं यह जानता हूं कि तुम अपने बच्चे का ख्याल अच्छी तरीके से रख लोगी अनुराग प्रेरणा से बात कर रहा होता है तभी वहां पर सोनालिका आ जाते हैं और अनुराग को प्रेरणा से बात करता हुआ देख लेती है तभी उसे और भी ज्यादा गुस्सा आने लगता है और वह सोचती है कि मुझे प्रियंका के बच्चे का कुछ करना ही होगा मुझे प्रेरणा के बच्चे को खत्म करना ही होगा वरना खून खून को पुकार ही लेगा।

Also Read – Kasauti Zindagi Ki Written Update 20  November 2019 in Hindi

प्रेरणा जब अपने कमरे में होती है तभी वहां पर शिवानी आ जाती है इतनी देर में प्रेरणा शिवानी से सारी बातें बताने लगती है कि जब मैं गिरने वाली थी जा अनुराग नहीं मेरी मदद की थी लेकिन अनुराग ने मुझे इतना डाटा और उसके बाद उसने फोन करके मुझसे माफी भी मांगी है लेकिन मुझे एक बात समझ में नहीं आ रही है कि आखिर मैं उस टाइम गिरी कैसे मुझे यह बात बिल्कुल समझ में नहीं आई मुझे कुछ सोचना ही होगा तभी प्रेरणा सोचने में पड़ जाती है कि आखिर वहां से सिसली कैसे प्रेरणा को सब कुछ समझ में आ जाता है कि सोनालीका ने जानबूझकर प्रेरणा के पैरों में पैर फसाया था जिसकी वजह से प्रेरणा गिरने वाली थी तभी वह शिवानी को सारी बातें बता देती है कि उसे सोनालिका पर शक है उसके बर्ताव को देखकर कि वही कमालिका है।

शिवानी प्रेरणा की बातों को सुनकर चौक जाती है और प्रेरणा से कहती है कि आखिर यह कैसे हो सकता है आप जानती हैं ना कि कमालिका इस दुनिया में नहीं है फिर वह वापस कैसे आ सकती है तब कहती है कि मैंने सोनालिका की बॉडी लैंग्वेज को देखा है उसके बोलने का तरीका और उसके अंदर का घमंड बिल्कुल कामोलिका जैसा ही है वह हुबहू शिवानी प्रेरणा की बातें मान लेती है और कैसे वाणी प्रेरणा से कहती है कि मैं सोनालिका से पैसे भी बात करनी ही वाली थी मैं उसे फोन करके सारी सच्चाई बताने ही वाली हूं कि आपके और अनुराग के बीच में आकर क्या रिश्ता है तभी प्रेरणा उसे रोकने की कोशिश करती है इतनी देर में उसे पानी उसे सोनालिका को कॉल लगा देती है।

शिवानी सोनालिका को फोन लगाती है और उसे फेंक इंट्रोडक्शन देती है कि मैं एक बैंक से बोल रही हूं आपका नाम 1 लकी ड्रा में सिलेक्ट हुआ है आप अपना पैन कार्ड आधार कार्ड और भी डॉक्यूमेंट हमें मेल कर दीजिए सोनालिका शिवानी से कहती है कि मैं आपको अच्छी तरीके से जानती हूं पहले तुम मुझे कॉल करोगे और सारे डॉक्यूमेंट मांगोगे और मेरी बैंक को खाली कर दोगे मैं तुम्हें जैसे लोगों को अच्छी तरीके से जानती हूं सोनालिका इतना कहकर फोन काट देती है कभी वहां पर निवेदिता जाती है और सोनालिका से कहती है कि तुम हमारे साथ संगीत के फंक्शन में चल रही हो तभी यह सोनालिका कहती है कि हां मैं आपके साथ संगीत के फंक्शन में जरूर चलूंगी।

शिवानी जैसे ही फोन को काटती है तभी वह प्रेरणा से कहती है कि सोनालिका की बातों से मुझे भी ऐसा लग रहा है कि वही कोमोलिका है इतनी देर में वहां पर शिवानी के पास उसके दोस्त का कॉल आ जाता है शिवानी उसको उठाते हैं तभी उसका दोस्त संगीत में आने के लिए कहता है शिवानी प्रेरणा को देखती है तभी वह डिसाइड करती है कि वह इस संगीत में जरूर जाएगी तभी वह अपने दोस्त कहती है कि मैं और मेरी दी जरूर फंक्शन में आएंगे यह सब शंकर चौक जाती है तभी शिवानी से कहती है कि नहीं मैं कहीं नहीं जाऊंगी शिवानी करने की वजह से प्रेरणा उसके साथ चलने के लिए राजी हो जाती है।

अनुराग और उनकी सारी फैमिली जैसे ही संगीत के फंक्शन में पहुंचती है मोहिनी वासु सारे घरवालों से उसे लड़की की दुल्हन से मिलवा रही होती है तभी वहां पर सोनालिका पीछे रह जाती है मोहिनी सोनालिका को आवाज देती है और सोनालिका को अपने पास बुलाती है और सबको एंड रिड्यूस करवाती है कि यह मेरी बहू है थोड़ी देर के बाद वहां पर प्रेरणा शिवानी आ जाते हैं और उसे दूल्हे से मिलते हैं तभी अनुराग और प्रेरणा एक दूसरे को देख लेते हैं मोहिनी प्रेरणा को वहां पर देखकर गुस्से में आ जाती है सोनालिका भी प्रेरणा को देखकर गुस्से में आ जाती है ना उस लड़के से मिलकर वहां से चीजें चली जाती है और शिवानी जब सोनालिका को घूर रही होती है तभी वह कहती है कि मुझे इसकी हरकतों को देखकर तो ऐसा ही लग रहा है कि यही कमालिका है।

प्रेम न जब अकेली होती है तभी वहां पर अनुराग आ जाता है और शिवानी से कहता है कि तुम अपनी बहन का अच्छी तरीके से ख्याल रखना सोनालिका इतनी देर में वहां पर आ जाती है और अनुराग से कहती है कि डांस हम दोनों मिलकर करेंगे संगीत में आए हैं तो डांस तो करना ही पड़ेगा सोनालिका अनुराग डांस करने के लिए लग जाते हैं शिवानी जब सोनालिका को घूर रही होती है तभी आप प्रेरणा शिवानी को अलग लेकर जाती है और उससे कहती है कि तुम इस तरह से अगर सोनालिका को घूरती ही रहोगी तो उसे हम पर शक हो जाएगा अगर वह कामोलिका वाकई में है तो हमारे लिए यह अच्छी बात नहीं है।

शिवानी इतनी देर में कहती है कि मैं ठीक है दूर से उस पर नजर रख लूंगी मैं उसके बिल्कुल भी भनक नहीं लगने दूंगी कोई उस पर नजर रख रहा है शिवानी इतना कहकर वहां से चली जाती है सोनालिका जब फोन को चला रही होती है प्रेरणा उसे फोन चलाता हुआ देखती है फिर कहती है कि यह तो बिल्कुल उसी तरह से फोन चला रही है जैसे कमालिका चलाती थी तभी वहां पर एक वेटर आ जाता है और सोनालिका की साड़ी पर पैर रख देता है सोनालिका गुस्से में आ जाती है और उस लड़की को जब सुना रही होती है तभी उसकी नजर पड़ जाती है और वह शांत हो जाती है सोनालिका जैसे ही वहां से निकलती है प्रेम ने उसका पीछा करने लगती है।

सोनालिका रोहित से जब बाहर बात कर रही हो तेरे तभी वह रोने से कहती है कि हमें प्रेरणा के साथ और भी कुछ करना है तबीयत रॉनित कहता है कि आपने प्रेरणा का घर जला दिया और उसे अनुराग की जिंदगी से भी बाहर निकाल कर फेंक दिया है और आप क्या चाहती हैं प्रेरणा के लिए तभी सोनालिका कहती है कि मुझे प्रेरणा को खत्म कर देना है शिवानी इतनी देर वहां पर गाड़ी के पीछे से सोनालिका और रोहित को देख रही होती है तभी वह कहती है कि रोहित और सोनालिका मिले हुए हैं इसका मतलब यही कामोलिका है मुझे यह सारी बातें प्रेरणा दी और अनुराग तक पहुंच आनी होगी।

Add Comment