Nazar Written Update 2 November 2019 In Hindi

Nazar Written Update 2st November 2019 In Hindi में आप सब देखेंगे कि कैसे पिया जब कमरे में होती है तभी पिया का दुपट्टा आईने के दौर में अटक जाता है वह दुपट्टे को निकालने की कोशिश करती है और वह गलती से आईने में देख लेती है आईने में पिया उसमें दिखाई दे जाती है तभी पिया डर जाती है और पिया की एक हमशक्ल डायन उस आईने के अंदर होती है पिया उसे देख कर डर जाती है इसके बाद आईना पिया को अंदर की तरफ खींचना शुरू कर देता है तभी पिया अंश को आवाज लगा देती आन से जैसे ही पिया की आवाज सुनता है उसे बचाने के लिए बाहर आ जाता है और पिया को आईने की तरह जो गिरता हुआ देखता है तभी यह अंतर पिया को कस के पकड़ लेता है और अपनी तरफ खींच लेता है इससे पूरी तरह से बच जाती है।

अंश कमरे के सारे आईनों को ढक देता है और पिया से कहता है कि सारे घर वालों को हमें बचाना ही होगा पहले हमेशा करते हैं कि पहले बच्चों को बचा लेते हैं हमें हम दोनों एक साथ भी नहीं जा सकते कहीं ऐसा ना हो कि हम दोनों ही आईने के सामने आ जाए और आईना हम दोनों को ही अंदर खींच ले इसलिए हमें अलग-अलग जाना चाहिए पिया तुम कमरे में ही रुकना मैं पहले बच्चों को लेकर आता हूं अंश पिया को वहीं पर रुकने के लिए कह देता और वहां से चला जाता है।

अंश प्रिया को जैसे ही कमरे में छोड़कर जाता है और वह आधी और परी के कमरे में चला जाता है आदमी और परी के कमरे में कोई और नहीं बल्कि अविनाश और चेताली होते हैं ऐसे ही उन दोनों को देखता है और कहता है कि अच्छा हुआ कि आप समझा पर मिल गए तभी आंशिक दरवाजे को लगा देता है और उन दोनों को सारी बातें बताना शुरू कर देता है कि कोई भी आईना को नहीं देखेगा तभी अंश को ढकना शुरू कर देता है अविनाश चैताली पूछते हैं कि आखिर क्या बात है तुम ऐसा क्यों कर रहे हो।

पिया को इतनी देर में निशांत जी का फोन आ जाता है और वह सारी बातें बता देते हैं कि चैताली और अविनाशी आईने के अंदर है और जो बाहर घूम रहे हैं असल में वह उनके हमशक्ल डायन है तभी बीयर्डेड जाती है और कहती है कि मुझे यह बात अंश को बता देनी चाहिए पिया अंश को फोन लगाते हैं फोन को उठा लेता है इसके बाद पिया अंश को सारी बातें बता देती है अविनाश और चेताली बात कर रहे होते हैं कि कहीं ऐसा तो नहीं इसे हमारे बारे में सब कुछ पता लग गया हो तभी अभी ना सब चेताली के ऊपर अपना हाथ रख देते हैं मैं समझ जाता है और वह कहते हैं कि अब तुम्हें हमारे बारे में सब कुछ पता लग चुका है।

अंश उन दोनों को अपने सामने ले आता है और चेताली अंश से कहती है कि तुम्हें क्या लगता है कि तुम हमसे जीत सकते हो हम तुम्हारे अभी ना और चैताली जैसे डरपोक नहीं है जो तुम से डर जाएंगे अंश इसके बाद आदि और परी के पास जाता है और आदि का अर्थ परी के हाथों में दे देता और आदि से कहता है कि तुम दीवार पर आकर के परी को यहां से लेकर चले जाओ तभी आदि परी को वहां से लेकर चला जाता है अंश उन से लड़का होता है और उन्हें हराकर बाहर निकल आता है और घर के सारे आइनों को फोड़ देता है इसके बाद अंश कहता है कि मुझे एक घर में से सारे घर वालों को बाहर निकालना होगा तभी ऐसे जैसे ही नीचे जा रहा होता है तभीविदेश्री और शेखर लिफ्ट में बैठकर ऊपर की तरफ आ रहे होते हैं इतनी देर में लिस्ट बीच में रुक जाती है तभी विदेश्री की हमशक्ल डायन वेद का रूप रखकर वहां पर अंदर आ जाती है ।

Also Read – Nazar Written Update 1st November 2019 In Hindi

अंश को गलतफहमी हो जाती है कि उसकी मां है अंश मां से कहता है कि हमें सारे घरवालों के साथ यहां से निकलना होगा और पापा कहां पर है तभी डायन बताती है कि तुम्हारे पापा तो किसी काम से बाहर गए हैं ऐसे जैसे ही आगे बढ़ता है तभी वो पीछे पलट कर देखता है तभी उसकी मां डायन रूप रख लेती है और वहां पर एक आईना भी होता है तभी आंसर गलती से उस आईने में देख लेता है और उस आईने के अंदर अंश का रूप आ जाता है तभी वहां पर चेताली डायन और अविनाश भी आ जाते हैं।

विदेश्री और शेखर जब उसे लिफ्ट में बंद होते हैं तभी विदेश्री कहती है कि कुछ तो गड़बड़ है इतनी देर में लिफ्ट के ऊपर डायन जड़ी आजादी हैं तभी सीकर कहता है कि तुम सही कह रही हो कुछ तो गड़बड़ है शायद मोना यह नहीं चाहती कि हम घर के अंदर जाए अंश जैसे ही उस आईने में देखता है अंश को वो आईना अंदर की तरफ खींचना शुरू कर देता है तभी अंश अपने आप को रोकने की कोशिश करता है दयानंद से कहती है कि अंश कोशिश करना छोड़ दो तुम हार मान जाओगे अंश कहता है कि मैं हार नहीं मानूंगा।

अंश उसे आईने के बाद खींच लेता है तभी अंत का हमशक्ल अंश से कहता है कि मेरे अंदर तुम्हारी शक्तियों के साथ-साथ डायन की भी सत्य है इतनी देर में अंश और उसके बीच में झगड़ा होना शुरू हो जाता है और दोनों ही उस आईने के अंदर चले जाते हैं तबीयत विधि श्री डायन कहती है कि यह दोनों आईने के अंदर तो चले गए हैं लेकिन एक ही बार आएगा तभी एक अंश का हमशक्ल बाहर आ जाता है और अंश से ही आईने में रह जाता है पिया जब कमरे में होती है तभी वहां पर आदि और परी आ जाते हैं तभी पिए कहती है कि काफी टाइम हो चुका है अभी तक क्यों नहीं आया ऐसा तो नहीं कोई मुसीबत में फंस गया हूं मुझे बाहर जाना चाहिए पिया जैसे बाहर जा रही होती है तभी आदि और परी कहते हैं कि मां का जा रही है मैं भी आपके साथ चलते हैं तभी पिया उन दोनों से कहती है कि नहीं तुम दोनों कहीं नहीं जाओगे तुम दोनों यहीं पर रहोगे और जब तक मैं और तुम्हारे पापा कोई यहां नहीं आ जाती तब तक तुम इस कमरे से बाहर नहीं निकलोगे।

पिया जैसे ही कमरे के बाहर आती है तभी वह आई न्यू को टूटा हुआ देखती है और कहती है कि शायद यह सारी एलियंस नहीं तोड़े होंगे लेकिन मैंने आईने से बचकर कैसे जाऊं अगर मेरी परछाई नाइन ऊपर पड़ जाती है तो यह आईना मुझे अंदर की तरफ खींच लेगा पिया अपने डेबिट चाकू को निकालती है और बल पर फेंक देती है जैसे सारे बलपुर टूट जाते हैं और उनके आई नो में अंधेरा छा जाता है इसके बाद पिया वहां से निकल जाती है पिया अंश को जब ढूंढ रहे होती है लेकिन अंश से कहीं दिखाई नहीं देता पिया कहती है कि मुझे अनुकूल नहीं होगा मैं आ रही हूं अंश आवाज सुनाई दी जाती है।

सेबी सनम से जब बात कर रही होती है तभी सनम घर को छोड़कर जा रही होती है सेबी कहती है कि तुम कहां जा रही हूं घर को छोड़कर सेबी कहती है कि मैं ऐसे नहीं रह सकती मैं अपनी मां और अपने पति को इस हालत में नहीं देख सकती इसलिए मैं इस घर को छोड़कर जा रही हूं सेबी कहती है कि तुम्हें अब तो यहां पर रहना चाहिए था तुम बांका जा रही हूं तुम मेरी मदद करो तुम मुझे उस छोटे पहलवान के बारे में कुछ बताओ सनम बताती है कि मुझे उसके बारे में ज्यादा कुछ तो याद नहीं है बस मुझे इतना याद है कि जब भी छोटा बेईमान सोना बना देता है उसे अपना बना लेता है उसे अपने सोनू से बड़ा प्यार है वह नहीं चाहता कि कोई उसके सोने को चुराए ।

सेबी कहती है कि तुम एक काम करो अपने सारे गाने मुझे दे दो पहले तू सनम मना करती है लेकिन उसके बाद में उसे कहने दे देती है और सेवी उन गानों को पहनकर छोटे पहलवान के सामने चली जाती है छोटा पहलवान जैसे उन दोनों के साथ सेवी को देखता है और उसे कहता है कि तुमने यह गेम मेरे गहने क्यों पहने हुए हैं मैं तुम्हें भी अब सोने का बना दूंगा और मेरे पास तीन मूर्ति या सोने की हो जाएंगी इसके बाद जैसे ही छोटा पहलवान अपनी छड़ी को आगे उठाता है और सेबी पर अपनी छड़ी का इस्तेमाल करता है तभी सनम आईने को छड़ी के सामने आती है और उसे छड़ी की मदद से ही छोटा पहलवान सोने का बन जाता है और नमन और सनम की मां नॉर्मल हो जाते हैं।

Add Comment