Nazar Written Update 26 December 2019

Nazar Written Update 26 December 2019 Today Episode में आप सब देखेंगे कि कैसे अदृश्य आदमी अंश को कमरे से गिरता हुआ बाहर की तरफ ले आता है और उसे रस्सी से लटका देता है अंश अपने आप को छुड़ाने की काफी ज्यादा कोशिश करता है तभी वहां पर अंश का पीछा करते हुए पिया आ जाती है और अंश को छुड़ाने की कोशिश करती है अपनी शक्तियों का इस्तेमाल करके लेकिन उसकी शक्तियां काम नहीं कर पाती थोड़ी देर के बाद पिया अपने दैविक चाकू को निकाल दिया और उस रस्सी पर चला देती है जिससे पूरा सीन जाती है और अंश नीचे गिर जाता है अंश को सारे घर वाले लगते हैं और उसे कमरे में ले जाते हैं ऑफिसर निशान तेजी से जब मदद मांग रहा होता है निशांत जी ऑफिसर से कहते हैं कि तो आप क्या चाहते हैं हम आपकी कुछ भी मदद नहीं कर सकते ऑफिसर कहता है कि आप हमारी क्यों मदद नहीं कर सकते अच्छा मैं अच्छी तरीके से जानता हूं कि आप ही नहीं चाहते कि आपके बारे में किसी को भी कुछ पता लग पाए निशांत जी फिर भी उस ऑफिसर की मदद करने से मना कर देते हैं ऑफिसर निशांत जी से कहता है कि

Advertisement

Also Read – Nazar 26 December 2019 Latest News

Advertisement

आप तो हमेशा हमसे कहते हैं कि काली शक्तियों से लड़ना आपका फर्ज है तो आप अपने फर्ज को कैसे भूल सकते हैं निशांत जी फिर भी सॉरी सर से मना कर देती है उनकी मदद करने के लिए सेवी निशांत जी से कहती है कि पापा आपने उनकी मदद क्यों नहीं कि तभी निशांत जी कैसे हैं कि हम अपने बारे में किसी को भी कुछ भी नहीं बता सकते हम अपना काम बहुत ही सावधानी से करती हैं ताकि हमारे बारे में किसी को भी पता ना लगता है सेवी कहती है कि हम तो यह बात ऑफिसर से भी कह सकते थे कि हम तुम्हारा साथ चोरी चुप ही देंगे तभी निशांत जी सेवी से कहते हैं कि नहीं मैंने जो कह दिया है सो कह दिया है तुम जाओ और ऐसे प्राण प्याले को रखने का एक ताबूत का इंतजाम करो सेवी इतना सुनकर वहां से चली जाती है।

सेवी के जाने के बाद निशांत जी कहते हैं कि मैं उस ऑफिसर की मदद नहीं कर सकता क्योंकि मैं अब उससे दोबारा सामना नहीं कर सकता इतनी देर में पिया का फोन निशांत जी के पास आ जाता है पिया सारी बातें निशांत जी को बता देती है उसे अदृश्य आदमी के बारे में यह बात सुनकर निशांत जी चौक जाते हैं और उसके बारे में पता लगाने के लिए वहां से निकल जाते हैं और एक जगह पर जब निशांत जी जा रहे होते हैं तभी वह ऑफिसर निशांत जी का पीछा कर रहा होता है ऑफिसर कहता है कि मैं अच्छी तरीके से जानता था कि उस वीडियो को देखकर यह कहीं तू जाएंगे इसलिए मैं इनका पीछा कर रहा हूं निशांत जी एक गुफा के पास जाते हैं और उस गुफा के अंदर चले जाते हैं और फिर उनका पीछा करते हुए उस गुफा के अंदर चला जाता है निशांत जी एक दरवाजे के अंदर जाते हैं और वहां पर एक मूर्ति रखी रहती है उस मूर्ति को निशांत जी जैसे ही घूम आते हैं अचानक मूर्ति के हाथों में एक आईना लगा होता है उस आईने पर जैसे ही रोशनी आती है वह रोशनी एक दरवाजे पर चली जाती है जिससे वह दरवाजा खुल जाता है निशांत जी उस दरवाजे के अंदर चले जाते हैं और उस दरवाजे को अंदर से बंद कर लेते हैं ऑफिसर उस जगह पर आता है वहां पर आकर देखता है कि निशांत यहां पर है ही नहीं तभी वह चौक जाता है और कहता है कि आखिर वह गए कहां इसी कमरे में तो आए थे लेकिन वह कहीं दिखाई नहीं दे रहा है निशांत जैसे ही उस कमरे में जाते हैं और वहां पर एक ताबूत रखा होता है उस ताबूत को कॉल कर देते हैं लेकिन उसके अंदर कोई भी नहीं होता निशांत जी कहते हैं कि इसका मतलब मेरा डर सही था वह यहां से निकल चुका है लेकिन आखिर वहां से निकला क्यों है इतने सालों के बाद उसे यहां से निकलने की जरूरत क्या पड़ी और वह सीधे अंश के घर ही क्यों गया है उनसे ऐसी क्या दुश्मनी है मुझे पिया को इनफॉर्म करना होगा कि उससे वह लड़ नहीं सकते उसकी शक्तियों का अंदाजा अभी उन्हें नहीं है मुझे यह बात पिया को जल्द से जल्द बतानी होगी निशांत जी जैसे उस दरवाजे को खोल कर देखते हैं ऑफिसर को देखकर दरवाजे को बंद कर लेते हैं और कहते हैं कि यह ऑफिसर तो अभी तक यहीं पर है मैं क्या करूं मैं यहां से निकल भी नहीं सकता।

Advertisement

अंश के शरीर पर थोड़ी सी चोट लग जाती है पिया उस पर दवाई लगा रही होती है पिया कहती है कि आखिर यह गांव हिल क्यों नहीं हो रहा है तभी चेतानी कहती है कि ऐसा तो नहीं अभी अंश की सारी शक्तियां ही नहीं हूं तभी अंश वहां पर रखे चाकू से अपना हाथ काट लेता है और उसे ही कर देता है लेकिन वह गांव हिल हो जाता है सारे घर वाले यह सब देख कर चौक जाते हैं पिया कहती है कि यह गांव तो हीरो चुका है मुझे लगता है जो गांव अंश को उस आदमी ने दिया है वह बहुत ही ज्यादा शक्तिशाली है जिसकी वजह से यह गांव ही नहीं हो पा रहा है पिया अंश से पूछती है कि क्या तुम उस आदमी के बारे में हम सबको कुछ बता सकते हो कि ऐसा कुछ तो तुमने महसूस किया होगा जिसकी वजह से हम उसके बारे में पता लगा सके कि वह आखिर है कौन और हम उसे किस तरह से पकड़ सकते हैं कुछ भी उसकी खुशबू जा उसका एहसास कुछ भी अंश सोच में पड़ जाता है और वह पिया को बताता है कि वह सांस लेता है पिया कहती है कि हमें किसी भी तरह उस आदमी को पकड़ना ही होगा सारे घर वाले जब उसकी बात कर रहे होते हैं तभी वहां पर आधी आ जाता है और सारे घरवालों से कहता है कि आप सब नीचे चलिए मुझे आपको कुछ दिखाना है सारे घर वाले आदि के पीछे चले जाते हो नीचे जाकर देखते हैं कि एक दीवार पर खून से लिखा होता है खून यह सब देख कर सारे घर वाले और भी ज्यादा चौक जाते हैं अंश कहता है कि मैं अच्छी तरीके से जानता हूं कि यह क्या चाहता है यह हम सब को डराना चाहता है लेकिन हम सब डरेंगे नहीं और तुम्हारा सामना भी करेंगे थोड़ी देर के बाद पिए कहती है कि मुझे तो लगता है वह हमारे आस पास ही है हमें उसके बारे में पता लगाना होगा शेखर जी कहते हैं कि वह आदमी गायब चलाएं सेप की वजह से वह गायब हुआ होगा।

पिया कैसी है कि अगर वह ऐसी बात है तो हम उसके बारे में पता लगा सकते हैं क्योंकि उसका असर सिर्फ पानी से ही हट सकता है इसलिए मेरे पास एक तरीका है हम सारे घर में पानी का छिड़काव करेंगे जिसकी वजह से उस पर जैसे पानी का असर होगा वह हमें दिखने लगेगा सारे घर वाले अपने अपने हाथों में पानी ले लेते हैं और सारे घर में छिड़कने लगते हैं लेकिन सारे घर वाले जब इकट्ठे होते हैं तभी वह कहते हैं कि उसके बारे में हम कुछ पता ही नहीं लगा पाए हैं पिया कहती है कि हो सकता है जाता हू आदमी यहां पर है ही नहीं जा फिर उस पर पानी का कोई असर ही नहीं हो रहा है जिससे वह हमें दिखाई नहीं दे रहा है हम गलत समझ रहे हैं कि उसने चलाएं सेप का इस्तेमाल किया है तभी अचानक पिया के पीछे कोई खड़ा होता है और उसे धक्का मार देता है कहती है कि मुझे किसी का एहसास हुआ था कि कोई मेरे पीछे खड़ा हुआ है पिया और अंश यह सब देख कर चौक जाते हैं तभी अंश पिया को संभाले लगता है इतनी देर में वहां पर किसी की आवाज आने लगती है कि तुम सब तो कह रहे थे कि तुम सब को डर नहीं लगता अब तुम सब कैसे डर गए तभी पिया वहां पर उसकी आवाज सुनते ही वहां पर पड़े पानी को अपनी दैविक शक्ति से उठाती है और उस आदमी के ऊपर फेंक देती है जिसकी वजह से वह पानी उस आदमी से टकरा तो जाता है अंश भागते हुए उस आदमी को पकड़ने की कोशिश करता है लेकिन वह आदमी वहां से चला जाता है पिया कहती है कि पानी पड़ने की वजह से हमें यह तो पता लग गया कि पानी का असर उस पर नहीं होगा पिया कहती है कि अभी तक पापा कभी फोन नहीं लग रहा है पापा यहां पर होते तो कुछ बता देते सारे घर वाले कहते हैं कि हां तुम सही कह रही हो अगर निशांत जी यहां पर होते तो हमारी कुछ तो मदद कर देते इस आदमी से लड़ने में लेकिन उनका तो फोन ही नहीं लग रहा है हम आखिर करेंगे क्या पिया कहती है कि अगर पापा यहां पर नहीं है तो हमें इस आदमी से खुद ही लड़ना होगा और हमारी शक्ति एकता में है इसलिए हमें इस आदमी का सामना एक साथ मिलकर करना होगा।

निशांत जी जब उस कमरे में होते हैं तभी उस ऑफिसर के जाने का वेट कर रहे होते हैं थोड़ी देर के बाद वह ऑफिसर वहां से चला जाता है निशांत जी बाहर देखते हैं कि वहां पर ऑफिसर नहीं है तभी निशांत जी उस ताबूत में से एक वाइट कलर की वॉल को निकालते हैं और वहां से ले जाते हैं सेवी जागो उस ताबूत में प्राण प्याले को रख रही होती है और उस दरवाजे को बंद करके उस पर देवी का चिन्ह बना देती है लेकिन थोड़ी देर के बाद उस ताबूत के ऊपर मोहना की परछाई दिखाई देती है जिससे सेवी बुरी तरह से डर जाती है और कहती है कि मैंने अभी यहां पर मोहना को देखा लेकिन वह यहां पर हो कैसे सकती है यह मेरी गलतफहमी है सेवी जब कमरे में लेट रही होती है तभी अचानक उसे किसी के गुनगुनाने की आवाज सुनाई देती है सेवी नींद से उठ जाती है और कहती है कि मैंने अभी किसी को गाती हुई सुनना है सेवी जब इधर-उधर देखती है लेकिन उसे कोई भी दिखाई नहीं देता जब पीछे पलटकर देखती है वहां पर मोहना उसकी तरफ आती है दिवानी उसे देखकर कहती है कि तुम यहां पर कैसे हो सकती हो जबकि तुम तो बांदा मैं कैद हो यह मेरा सपना है तो मैं यह सामने नहीं आ सकती मोहना उससे कहती है कि लेकिन मैं तो तुम्हारे सामने ही खड़ी हूं और तुम ही अब मुझे आजाद करोगी यह बात सुनकर सेवी चौक जाती है मोहना उसके सामने गुनगुनाने लगती है इतनी देर में सेवी वहां से भाग जाती है।

Advertisement