Nazar ~ Written Update ~ 23 December 2019

Nazar Written Update 23 December 2019 Today Episode में आप सब देखेंगे कि कैसे पिया पुलिस वाले वहां से ले जा रहे होते हैं अंश के सब देखकर बहुत ज्यादा परेशान हो जाता है और पिया को जाता हुआ देखकर बहुत ही दुखी हो जाता है सारे घर वाले अंश को सामान ले की कोशिश करते हैं अंश सारे घरवालों से कहता है कि अब मैं पिया को जाने कैसे बचा लूंगा ऑफिसर ने सारे सबूत पिया के खिलाफ खट्टा करके रखे हैं इतना कहकर अंश दुखी होकर अपने कमरे की ओर चला जाता है सारे घर वाले अंश के रिएक्ट को देखकर बहुत ज्यादा परेशान होते हैं तब अविनाश कहता है कि मैं अच्छी तरीके से जानता हूं अंश पिया को बचाने के लिए पुलिस स्टेशन जाने की कोशिश जरूर करेगा इसलिए तो मैंने यहां पर पुलिस वाले खड़ा करके रखे हैं

Advertisement

अंश यह बातें सुन लेता है और छत पर चला जाता है वहां से छलांग लगा देता है मोहना इतनी देर में वहां पर आ जाती है और अंश को अपनी चोटी की मदद से पकड़कर नीचे आराम से ले आती है अंश जैसे ही पीछे पलट कर देता है इतनी देर में मोहना परी के रूप में आ जाती है अंश परी को देखकर उससे पूछता है कि तुम यहां पर क्या कर रही हो परी बताती है कि पापा मैं जानती थी कि आप मां को लेने के लिए जहां से निकलने की कोशिश करोगे इसलिए मैं आपकी मदद के लिए यहां पर खड़ी हुई थी अंश परी से कहता है कि इस बारे में तुम किसी को भी कुछ भी मत बताना परी कहती है कि ठीक है पापा मैं इस बारे में किसी को कुछ भी नहीं बताऊंगी आप जाकर मां को जल्दी से ले आना अंश परी को अंदर जाने के लिए बोल देता है और वहां से अंश चला जाता है।

Advertisement

Also Read – Nazar 23 December 2019 Latest News

निशांत जी मोहना की वीडियो को देख रहे होते हैं तभी वहां पर सेवी आ जाती है और निशान तेजी से कहती है कि पापा आप इतनी देर से फुटेज में आप क्या देख रहे हैं हमें जो देखना था वह तो हम देख ही चुके हैं हमें यह पता लगाना था कि वहां पर मोहना है या नहीं वह तो हम पता लगा ही चुके हैं निशांत जी कहते हैं कि हां मोहना तू यहां पर दिख रही है लेकिन मुझे फिर भी कुछ अजीब सा लग रहा है पिया ने मुझे बताया था कि उसके घर में कुछ अजीब सी चीजें हो रही है इसलिए मैं यह पता लगाने की कोशिश कर रहा हूं कि आखिर क्या गड़बड़ है सेवी इतना सुनकर वहां से चली जाती है निशांत जी जब उसे फुट इसको देख रहे होते हैं तभी अचानक दीवार पर टंगी तस्वीर नीचे गिरने लगती है निशांत जी उस तस्वीर के पास जाते हैं और उस तस्वीर में शोभा गाड़ने लगते हैं लेकिन उन्हें याद आता है मोहना के ताबूत में भी तो शोभा बिगड़े हुए थे निशांत जी जब उस वीडियो के पास आते हैं उसे देखने के लिए निशांत जी की नजर मोहना के पैरों पर पड़ जाती है मोहना का पैर एक सीधा और उल्टा होता है निशांत जी से सारी बातें नमन और सेवी को बताते हैं सेवी यह सारी बातें सुनकर चौक जाती है निशांत जी कहते हैं कि इस बारे में मैंने सब कुछ रिसर्च कर लिया है लेकिन इस बारे में मुझे कुछ भी नहीं मिल पाया है नमन कहता है कि आपने सारी किताबों में देख लिया है लेकिन एक किताब तो रही गई है चुड़ैल शास्त्र नमन जब उस किताब को सामने लेकर आता है और उसे खोल कर देखता है नमन को याद आता है कि इस किताब को सिर्फ एक अंधा ही इंसान पड़ सकता है और गुरु मां तू यहां पर है ही नहीं इतनी देर में डपली का हाथ उस किताब पर पड़ जाता है और उसमें अक्षर साफ साफ नजर आने लगते हैं।

Advertisement

सारे घर वालों को जब अंश के बारे में पता लगता है कि वह अब घर में नहीं है सारे घर वाले अंश को फिर से सारे घर में ढूंढने लगते हैं तब अविनाश बालकनी में आता है वहां से देखता है कि छत पर परी खड़ी हुई है अविनाश सारे घरवालों के साथ छत पर पहुंच जाता है और परी से पूछता है कि आखिर तुम यहां पर क्या कर रही हो और तुमने अंश को कहीं जाते हुए देखा है परी बताती है कि हां पापा यहां से ही नीचे कूद गए थे और उन्होंने जाते हुए बताया था कि वह मां को लेने के लिए जा रहे हैं इतना सुनकर अविनाश चौक जाता है और वह उसी ऑफिसर को कॉल लगा देता है और उसे बता देता है कि वहां पर अंश आने वाला है इसलिए अपनी टीम को अलग कर दीजिए अंश जैसे ही पुलिस स्टेशन में पहुंचता है और सारे पुलिस वालों से छुप रहा होता है पिया के पास जाने की अंश जब कोशिश कर रहा होता है तभी अचानक हो ऑफिसर अंश के सामने आकर खड़ा हो जाता है ऑफिसर अंश से कहता है कि यहां पर तभी ऑफिसर को अविनाश की बात याद आने लगती है अविनाश ने ऑफिसर से कहा होता है कि अंश पिया से बहुत ज्यादा प्यार करता है और उसके लिए वह कुछ भी कर सकता है ऑफिसर अंश को पकड़ने के लिए कह देता है इतनी देर में वहां पर पिया आ जाती है अंश पिया को पकड़ने की कोशिश करता है और ऑफिसर को समझाता है कि आप गलती कर रहे हैं लेकिन ऑफिसर अंश की एक भी नहीं सुनता और वहां से पिया को जब गाड़ी में बिठा कर ले जाया जा रहा होता है अंश को गुस्सा आ जाता है और वह अपना कंट्रोल खो देता है और वहां पर रखी एक जीप को हवा में उड़ा देता है और वह जी ब्लास्ट हो जाती है ऑफिसर पिया को गाड़ी में देखता है वहां पर पिया नहीं होती ऑफिसर अंश का पीछा करने लगता है।

ऑफिसर और पुलिस वाले अंश और पीछा कर रहे होते हैं पिया और अंश जंगल की ओर चले जाते हैं अचानक से पिया और अंश के सामने एक नदी आ जाती है अंश पिया से कहता है कि हमें यह नदी पार करनी ही होगी इस नदी को पार करते ही डॉग हमारा पीछा करना छोड़ देंगे अंश और पिया उस नदी में कूद जाते हैं और उस नदी को पार कर लेते हैं अंश आगे चलते ही गैरों सोने लगता है पिया उसे संभालने की कोशिश करती है और देती है कि अंश के कंधे से खून बह रहा है तभी उससे पूछती है कि आखिर हुआ क्या है अंश बताता है कि पुलिस वालों की गोली मुझे छूकर निकल गई है यह बात सुनकर पिया कहती है कि तुमने मुझे इस बारे में पहले क्यों नहीं बताया और तुम ऐसे ही क्यों नहीं कर पा रहे हो अंश कहता है कि मैं नहीं करने की कोशिश की है पता नहीं क्यों नहीं हो रहा है पिया कहती है कि तुमने तो बताया था कि अभी कुछ टाइम तक हमारी शक्तियां कंट्रोल में नहीं रहेंगी मैं तुम्हारे लिए कुछ जड़ी बूटियां लेकर आती हूं लेकिन जब तक तुम अपनी आंखें बंद मत करना लेकिन इतनी देर में अंश अपनी आंखें बंद कर लेता है पिया घबरा जाती है और जड़ी बूटी लेने के लिए वहां से निकल जाते हैं और एक पेड़ के पास पहुंचती है बहुत ही ज्यादा ऊंचा होता है पिया कहती है कि यह तो पेड़ बहुत ही अच्छा है मैं पत्तियों को कैसे लूंगी पिया आपने अब एक शक्ति का इस्तेमाल करती है लेकिन पिया की पहली बार मैं शक्तियां काम नहीं कर पाती पिया कहती है कि मेरी शक्तियों को अपना काम करना ही होगा पिया फिर से अपनी शक्तियों का इस्तेमाल करती है और नीचे आ जाता है।

पिया भागकर अंश के पास जाती है और उसे जड़ी बूटी का लेप लगा देती है अंश थोड़ी देर के बाद होश आ जाता है पुलिस वाले जैसे ही उसे नदी के पास पहुंचते हैं तभी वह कहते हैं कि हमें लगता है कि वह इस नदी को पार करके उस पर चले गए हैं पुलिस वाले कहते हैं कि हमें उस पर जाना होगा पुलिस वाले भी उस पार की तरफ चले जाते हैं अंश और पिया एहसास हो जाता है कि यहां पर पुलिस वाले आने वाले हैं पिया कहती है कि हमें आसपास कहीं छुप ना ही होगा पुलिस वाले जैसे ही वहां पर पहुंचते हैं वहां पर खून के निशानों को देखकर कहते हैं कि जरूर वह आस-पास ही छुप कर बैठे हैं निशांत जी जैसे ही हूं चुड़ैल शास्त्र को देखते हैं डफली से कहते हैं कि डफली अपना हाथ एक और बार इस खिताब पर रखना डफली अपना हाथ किताब पर रख देती है जिससे सारे शब्दों अच्छी तरीके से समझ में आ जाते हैं निशांत जी पढ़कर कहते हैं कि इस किताब में तो वही लिखा हुआ है जिसके बारे में हम जानना चाहते हैं एक चुड़ैल के पैर एक उल्टे सीधे तब होते हैं जब चुड़ैल की आधी जान उसके शरीर के अंदर और आधी जान उसके शरीर के भार होती है इसका मतलब मोहना का शरीर जो अंदर है उसमें आधी जान है और बाकी की आधी जान उसके शरीर के बाहर है।

Advertisement