Nazar Written Update 16 December 2019 In Hindi

Nazar Written Update 16 December 2019 Today Episode में आप सब देखेंगे कि कैसे सारे परिवार वाले मोहना को उस ताबूत में कैद करके वहां से जब आ रहे होते हैं तभी पिया की नजर पीछे जाती है तभी वह कहती है कि परी है कहां परी को जब देखा जाता है परी अपने जूतों को टाइट कर रही होती है मोहना ताबूत में जब बंद होती है तभी वह कहती है कि तुम सब को क्या लगता है कि तुमने मुझे ताबूत में बंद करती है और मुझ से छुटकारा मिल गया मुझसे इतनी जल्दी छुटकारा नहीं मिल सकता है मेरी नजर कभी भी तुम सबसे नहीं हटेगी मैं तुम सबके साथ नहीं हूं तो क्या हुआ लेकिन मैं परिचय दूं पर मैं वहां पर जरूर आऊंगी और तुम सब पर नजर रखेंगी।

Advertisement

सारे घर वाले निशांत जी के ऑफिस में जब इकट्ठे होते हैं तभी पिया अंश से बात करती है निशांत जी अंश के बारे में पूछते हैं अंश के बारे में सबको बताती है कि अंश आदि और परी के साथ घर पहुंच चुका है और मैंने उसे उन्हीं के साथ रहने के लिए बोल दिया है परी के बारे में सोच सोच कर सारे घर वाले बहुत ही ज्यादा परेशान होते हैं तभी वह निशांत जी से कहते हैं कि परी को लेकर हम कुछ ज्यादा ही परेशान है पर जब हम मोहना की चोटी को जमीन में कर रहे थे तो उसे करता हुआ देख कर पा रही जाने क्यों चलाई थी अविनाश कहता है कि हो सकता है पर ही घबरा गई हो और बच्ची ही तो है वह और उसने इतना सब कुछ देख लिया है इसलिए शायद वह घबरा गई है उसे नॉर्मल होने में तो कुछ टाइम तो लगेगा ही।

Advertisement

Also Read – Nazar Latest News

निशांत जी कहते हैं कि हमें चोटी को ठिकाने लगाना ही होगा हमने ऐसे जमीन में गाड़ने की भी कोशिश की है लेकिन यह बार-बार जमीन से निकल आती है लेकिन अब हमें चोटी का क्या करें निशांत जी डिसाइड करते हैं कि वह छोटी को अब खत्म कर देंगे और निशांत जी उस छोटी में आग लगा देते हैं लेकिन वह छोटी दर उधर घूमने लगती है पिया को जैसे ही वह छोटी छूने वाली होती है पिया नीचे झुक जाती है निशांत जी अपने हाथों में त्रिशूल लेते हैं और उसे चोटी पर मार देते हैं जिससे वह छोटी एक ही जगह अटक जाती है निशांत जी कहते हैं कि इस चोटी को मैंने जो सोचा था कि हम इस चोटी को खत्म कर देंगे लेकिन छोटी खत्म नहीं हो सकती हमें कुछ और सोचना होगा निशांत जी और सारे परिवार वाले छोटे को लेकर सर्प के पास चले जाते हैं और उनसे कहते हैं कि इस चोटी को हमने खत्म करने की भी कोशिश की है और इसे जमीन में गाड़ने की भी कोशिश की है लेकिन हम नाकामयाब रहे हैं मैंने सोचा था कि हम इस चोटी को पाताल झड़ने के अंदर रख देते हैं लेकिन वहां पर ऑलरेडी एक छोटी है वहां पर भी छोटी को नहीं रख सकते यह बेवकूफी होगी दो डायन की चोटी एक ही जगह रखना।

Advertisement

शीतल कहती है कि आप घबराइए मत आप इस चोटी को यहां पर रखकर जा सकते हैं मेरे सर्फ सर्फ इस छोटी की देखभाल करेंगे ना ही इस चोटी को कोई यहां से ले जा सकता है और ना ही यह चोटी खुद यहां से जा सकती है परी जब अपने कमरे में होती है तभी वह अपना असली रूप यानी कि मोहना के रूप में आ जाती है और वह सोचने में पड़ जाती है कि आखिर यह सारे घर वाले मेरी चोटी के साथ कर क्या रहे होंगे और मेरी छोटी आखिर होगी कहां अभी वहां पर अभी आ रहा होता है बोलो अपने परी वाले रूप में आ जाती है आधी परी के पास आता है और परी से कहता है कि यह लोग इसको और मम्मा ने तो मैं झूठ भी देने के लिए बोला था मैं अभी जूस को लेकर आता हूं आज ही जमा से जब जा रहा होता है मोहना को गुस्सा आ जाता है और वह सुबह स्कूटर को मोड़ने लगती है ।

आदि उसकी आवाज सुन लेता है और जैसे पीछे पलट कर देखता है लेकिन उसे कुछ भी दिखाई नहीं देता परी उनमें सूट कुटु को लेकर आराम से बैठी होती है लेकिन रिया चाहिए आधी एक और कदम आगे बढ़ाता है फिर से बिस्कुट के टूटने की आवाज सुनाई देती है और वह पीछे पलट कर देखता है परी उन बिस्कुट को गुस्से से मरोड़ रही होती है आधी उसे देख कर चौक जाता है परिवहन भुस्कुटे को कोने में फेंक देती है यह सारी बातें वह पिया को जाकर बताता है लेकिन पिया उसकी बातों को इग्नोर कर देती है और उससे कहती है कि हो सकता है यह तुम्हारी कोई गलतफहमी हो क्योंकि परी वैसे भी इतनी परेशानियों के बाद हमारे पास लौट कर आई है थोड़ा वक्त लगेगा उसे सब कुछ समझने में तो तुम उसका जरूर साथ देना और उससे बिल्कुल झगड़ा मत करना इतना कहकर आदि वहां से चला जाता है तभी वहां पर वेदश्री आ जाती है और पिया से पूछती है कि आखिर क्या हुआ है अभी इतना परेशान क्यों है पिया कहती है कि कोई बात नहीं है बस ऐसे ही ।

वेदश्री बहुत ही अरे परेशान होती है अंश को लेकर कभी वह पिया से अंश के बारे में पूछती है पिया अंश के बारे में बताती है कि अंश किसी काम से बाहर गया है और वह सुबह तक लौट आएगा पूछती है कि आखिर वह किस काम से गया है क्या तुम्हें इसके बारे में कुछ पता है पिया कहती है कि नहीं मुझे अंश भैंस के बारे में कुछ भी नहीं बताया आप चिंता मत कीजिए उसका मेरे पास मैसेज आया था वह भी ठीक है और वह सुबह तक लौट आएगा पिया की नजर तभी पड़ी पर पड़ जाती है परी ऊपर खड़े होकर सब कुछ सुन रही होती है पिया परी से कहती है कि परी तुम ऊपर क्या कर रही हो तुम नीचे आ जाओ पिया वेदश्री नाश्ते की टेबल पर सारे परिवार के साथ बैठकर खाना खाने के लिए चली जाती है तभी परी नीचे आ रही होती है इतनी देर में मोहना का रूप रखकर वह कहती है कि जो मैं करने वाली हूं वह यह सोच भी नहीं सकते लेकिन इससे पहले मुझे किसी को अपना शिकार बनाना होगा मोहना जब सारे परिवार को देखती है तभी वह कहती है कि मैं जानती हूं कि आप मुझे अपना शिकार कैसे बनाना है लेकिन अंश कहां पर गया है और ऐसा कौन सा काम है उसे उसे पूरी रात लग जाएगी।

पिया परी को आवाज लगा देती है वहां पर परी का रूप रखकर मोहना आ जाती है और सारे परिवार के साथ मिलकर खाना खाने लगती है रात होते ही परी स्केटिंग जूते निकालती है और उनकी आवाज से आधी जग जाता है मोहना परी के रूप में आ जाती है और वहां पर खिलौना रखकर खेलने लगती है आदि परी से पूछता है कि आखिर तुम कर क्या रही हो परी आदि से कहती है कि मुझे नींद नहीं आ रही है इसलिए मैं खेल रही हूं आज ही कहता है कि लेकिन रात तो बहुत हो चुकी है परी कहती है कि नहीं मुझे नींद नहीं आ रही है मैं भी खेल कर सो जाऊंगी आधी इतना सुनकर वह सो जाता है मोहना स्केटिंग जूते लेकर बाहर जाती है और उन्हें अपने पैरों में पहन कर अपने हाथों में एक फूलदान लेती है और लाइट को बुझा देती है पीएच की आवाज से जग जाती है और वहां पर टॉर्च को ढूंढने लग जाती है मोहना कहती है कि मैं जानती थी कि तुम ही सबसे पहले बाहर निकल कर आओगी।

नमन अपनी बेटी को जब दिलरुबा की तस्वीरें दिखा रहा होता है इतनी देर में वहां पर काफी ज्यादा चमका थोड़ी आ जाती है अपनी बेटी से कहता है कि तुम्हारी मां तुम्हारे साथ ही है देखो जब हम उसकी बातें कर रहे थे तो उसने आशीर्वाद देने के लिए अपने परिवार वाले भेज दिए हैं थोड़ी देर के बाद बच्चा जब रोने लगता है नमन उसे दूध पिलाने के लिए बोतल लेकर जैसे ही उसके पास आता है लेकिन इतनी देर में पालने से बच्चा गायब हो जाता है वहां पर नमन सभी को अपने पास बुलाता है और उसे सारी बातें बताने की कोशिश करता है लेकिन पहले तो सभी उसकी बातों पर भरोसा नहीं करती लेकिन उससे कह दिया कि तुम्हारी तबीयत को देखकर ऐसा लग रहा है मुझे यहां पर रहने के लिए आना ही होगा सभी वहां पर रहने के लिए आ जाती है और रात में जब बच्चा रो रहा होता है एक बार तो सभी उसे चुप करा देती है लेकिन दूसरी बार जब बच्चा रोता है तो उसके पास आ जाता है उसके बगल में जब सो रहा होता है तू भी पूरी तरह से डर जाती है और वहां पर नमन को बुला लेती है और उसे कहती है कि तुम ठीक कह रहे थे यह बच्चा नॉर्मल नहीं है अभी पाली में था और यह अचानक से जहां पर आ गया जहां से भी गायब हो गया है नमन कहता है कि तुम घबराओ मत यह अभी पालने में ही होगा मैं तुम्हें बता रहा था कि यह अचानक से गायब हो जाए होने लगा है यह कहीं नहीं होगा यह पालने में ही होगा नमन पालने में देखकर आता है लेकिन वहां पर बच्चा नहीं होता बच्चों को ना देख कर नमन घबरा जाता है और कहता है कि आखिर वह बच्चा है कहां।

Advertisement