Kasauti Zindagi Ki – Written Update – 5 December 2019

Kasauti Zindagi Ki Written Update 5 december 2019 Episode में आप सब देखेंगे कि कैसे अनुराग जब अपने कमरे में सो रहा होता है अचानक उसे प्रेरणा के हॉस्पिटल वाली बातें याद आने लगती है तभी वह मुस्कुराने लगता है और इस बात से परेशान सोनालिका अनुराग को उठाती है और उससे पूछती है कि आखिर क्या बात है अनुराग सोनालिका को बताता है कि मैं जब प्रेरणा के संग हॉस्पिटल में गया था तो मैंने उसके बच्चे की हार्ट बीट देखी थी ऐसा लग रहा था कि वह मेरी हार्ट बीट है सोनालिका यह बात सुनकर हैरान रह जाती है और अनुराग से कहती है कि अनुराग बहुत ज्यादा नींद आ रही है और बहुत ज्यादा रात भी हो चुकी है अनुराग सोनालिका को सोने के लिए कह देता है।

Advertisement

सुबह होते ही अनुराग प्रेरणा के घर पर पहुंचता है वहां पर प्रेरणा की मां दरवाजे को खोलती है तभी वह चौक जाती है अनुराग घर में आता है और प्रेरणा की मां से उसके हाल चाल के बारे में पूछता है और प्रेरणा और शिवानी के बारे में पूछ लेता है प्रेरणा की मां बताती है कि प्रेरणा तो नहाने के लिए गई है और शिवानी कमरे में है अनुराग प्रेरणा की मां को इनवाइट करता है और उनसे कहता है कि हमारे घर में एक पार्टी है उनमें आप सबको आना ही होगा क्यों कीजिए पार्टी कंपनी की तरफ से है और पार्टी के सबसे बड़े हिस्से राजेश अंकल भी थे क्योंकि उनका सबसे बड़ा हाथ था हमारे बिजनेस में इसलिए आप सबको आना ही होगा तभी प्रेरणा की मां मना कर देती है और उनसे कहती है कि बच्चे तो घर में नहीं है तो मैं उनके साथ आ जाती तो अच्छा लगता है लेकिन वह वह है नहीं तो मुझे अच्छा नहीं लगेगा अनुराग कहता है कि तो आप शिवानी और प्रेरणा के साथ आ जाएगा प्रेरणा की मां कहती है कि मैं देख लूंगी लेकिन तुम पानी पियो मैं तुम्हारे लिए पानी दे देती हूं।

Advertisement

अनुराग यह सोचता है कि क्या मुझे प्रेरणा की मां से ही प्रेरणा के हस्बैंड के बारे में पूछ लेना चाहिए तभी वह कोशिश करता है और प्रेरणा की मां से हस्बैंड के बारे में पूछ लेता है और उससे कहता है कि आप हो सके तो प्रेरणा के हस्बैंड को भी पार्टी में लेकर आना प्रेरणा की यह बात सुनकर चौक जाती है और अनुराग प्रेरणा की मां से कहता है कि मैंने बात सुनी है आप बुरा मत मानिए गा आप मुझे बता सकती हैं कि आखिर क्या बात है मैंने सुना है कि प्रेरणा के हस्बैंड ने उसे छोड़ दिया है उसके बच्चे को और प्रेरणा को आप मुझे बता सकती हैं कि प्रेरणा अपने बच्चे को अकेले ही पालने वाली है प्रेरणा की मां यह बात सुनकर गुस्से में आ जाती है अनुराग से कहती है कि तुम्हें भी देखना है ना मैं तुम्हें दिखा देती हूं गुस्से में चली जाती है और कहती हो जाती है कि अनुराग को प्रेरणा का हस्बैंड देखना है अब मैं उसे दिखाती हूं कि आखिर उस बच्चे का बाप असली है कौन तभी वह कमरे में जाती है और अनुराग और प्रेरणा की तस्वीरें निकालें लगती है और वह उनके आज जैसे ही अनुराग और प्रेरणा की तस्वीरें लगती हैं तभी वहां पर शिवानी आ जाती है।

Also Read – Kasauti Zindagi Ki Written Update 5 december 2019 2019 in Hindi

Advertisement

अनुराग कहता है कि मुझे लगता है इन्हें मेरी बात का बहुत ही ज्यादा बुरा लगा है इसलिए जैसे रिजेक्ट कर रही है मेरी बात को गलत ड्रैगन में लेकर जा रही हैं लेकिन कोई बात नहीं इसी के वजह से मैं अब प्रेरणा के हस्बैंड को देखी लूंगा कि आखिर कौन है प्रेरणा का हस्बैंड लेकिन कहीं ऐसा ना हो मैं यहां पर इंतजार कर रहा हूं और प्रेरणा आकर अपनी मां को रोक लिया तो मुझे कमरे में ही चले जाना चाहिए शिवानी है अपनी मां से पूछती है कि यहां पर इन फोटो को लेकर कहां जा रही है शिवानी से उसकी मां कहती है कि मैं यह सारे फोटो अनुराग को दिखाऊंगी और अनुराग से कहूंगी कि आखिर जिस बच्चे के पिता के बारे में पूछ रहा है वह असल में कोई और नहीं बल्कि वही है वही उसका खून है शिवानी अपनी मां को रोकने की कोशिश करती है और कहती है कि अगर आपने अनुराग को सारी सच्चाई बताई तो अनुराग के साथ कुछ भी हो सकता है थोड़ी देर के बाद वहां पर अनुराग पहुंच जाता है।

शिवानी अपनी मां के हाथों से उन फोटो को लेती है और कह देती है और कहती है कि मां मैंने तुमसे कितनी बार मना किया है कि आप इसके बारे में कभी भी कोई जिक्र नहीं करेंगे लेकिन आप ही ऐसी बातें कर रही हैं तभी अनुराग फोटो को देख रहा होता है तभी जवानी उन फोटो को उठाकर कबर्ड में रख देती है अनुराग शिवानी से कहता है कि मैं तो यहां पर सिर्फ इनवाइट करने के लिए आया था और वह इनवाइट कर के माफी मांग कर वहां से बाहर की तरफ निकल जाता है और कहता है कि मुझे ऐसा क्यों लग रहा है कि सारे लोग मुझसे कुछ ना कुछ छुपा रहे हैं मैं प्रेरणा के हस्बैंड के बारे में तो पता लगाकर ही रहूंगा कि आखिर उसका हस्बैंड है कौन सोनालिका घर में अनुराग के बारे में सोच रही होती है और वह अनुराग को फोन लगा कर पूछती है कि आखिर तुम कहां हो अनुराग बताता है कि मैं प्रेरणा के घर उन्हें पार्टी के लिए इनवाइट करने के लिए आया था तभी सोनालिका कहती है कि प्रियंका थोड़ी देर के बाद तो घर में आने ही वाली थी तुम वहां पर उससे भी कह सकते थे तभी अनुराग कहता है कि नहीं मैं प्रेरणा के घर वालों से यह बात कहने के लिए आया था क्योंकि राजेश अंकल हमारे एक कंपनी में काम करते थे लेकिन मेरी प्रेरणा से कोई बात नहीं हुई है अब मैं घर ही आ रहा हूं।

सोनाली का प्लान बनाते हो और प्रेरणा को फोन करते हैं और कहती है कि तुम्हें अभी यहां पर आना होगा और काम देखना होगा क्योंकि पार्टी रात को है तुम्हें काम तो करना ही होगा तुम्हारी आज छुट्टी नहीं है इतना कहकर सोनालिका फोन को काट देती है प्रेरणा सोचती है कि मुझे लगता है सोनालिका के दिमाग में कुछ ना कुछ चल रहा है इसलिए वह मुझे बुला रही है अनुराग निवेदिता के साथ वहां पर जब खड़ा रहता है तभी निवेदिता अनुराग को बताती है कि क्लाइंट का फोन आया था और वहां पर मीडिया वाले बुलाना चाहते हैं क्योंकि उनके सामने ही वह इस दिन के बारे में तुमसे बात करेंगे अनुराग सुनकर खुश हो जाता है निवेदिता पैसों के बारे में पूछती है कि तुमने पैसे तो संभाल कर रखे हैं ना अनुराग कहता है कि हां मैंने तारे गिन कर बैग में भरकर जाइए पर रखे हैं इतनी देर वहां पर प्रेरणा आ जाती है।

प्रेरणा जैसे वहां पर आती है तब यह मोहिनी प्रेरणा को देखकर अनुराग से कहते हैं कि तुम्हारी जिंदगी में जब से सोनालिका आई है तब से ही सब कुछ अच्छा हो रहा है तुम्हारे लिए सोनालिका एकदम सही है और इस घर के लिए भी निवेदिता कहती है कि हमें जो पैसे कबर्ड में रख देनी चाहिए निवेदिता सोनालिका से पैसे रखने के लिए कह देती है सोनालिका अनुराग से चाबी मांगती अनुराग कहता है की प्रेरणा के पास है चाबी प्रेरणा सोनालिका के साथ कमरे में चली जाती और कबर्ड को खोल देती है और सोनालिका से कहती है कि कब खुला हुआ है अब तुम पैसे रख दो सोनालिका प्रेरणा से कहती है कि क्या तुम मुझसे नाराज हो प्रेरणा सोनालिका से कहती है कि क्यों ऐसा क्या हुआ है सोनालिका कहती है कि जब मुझे करंट लग रहा था तो मैंने तुम्हें हाथ लगाया था जिसकी वजह से तुम्हें करंट लग गया ना कहती है कि तुम मेरे सामने ऐसा नाटक मत करो जैसे मैं तुम्हें जानती ही नहीं मुझे अच्छी तरीके से पता है कि वह जो करंट तुम्हें लगा था वह करंट मुझे लगने वाला था क्योंकि मैंने तुम्हारी और उस इलेक्ट्रीशियन की बातें सुन ली थी और जैसे ही मैं किचन में गई तो मैंने वहां पर पानी फैला हुआ देखा और वहां पर वायर भी देखी मैंने वायर की कनेक्शन को बंद कर दिया और आते समय मैंने उसे चालू कर दिया क्योंकि मैं जानती थी कि तुम देखने जरूर आओगी और तभी तुम्हें करंट लग गया थैंक यू तो तुम्हें मेरा बोलना चाहिए क्योंकि मैंने तुम्हारी जान बचाई है मैं अगर वहां पर टाइम पर नहीं पहुंच पाती तो तुम शायद यहां नहीं होती।

सोनालिका प्रेरणा को धमकी देती है कि खेल खत्म नहीं हुआ है मैं जब तक तुम पर अटैक करती ही रहूंगी जब तक तुम्हें कुछ हो नहीं जाता और मैं यह बात जानती हूं कि तुम यह सारी बातें किसी को नहीं बताओगे अनुराग के चक्कर में क्योंकि अनुराग की तबीयत खराब है और तुम अनुराग को बताने का रिक्स नहीं लोगी इसलिए मैं इसका फायदा उठाऊंगी और मैं तुम्हें हम करने की पूरी पूरी कोशिश करूंगी सोनालिका प्रेरणा से कहती है कि तुम यह पैसों को कब्र में रख दो शिवानी अपनी मां को तैयार करने के लिए बना रही होती है तभी वहां पर प्रेरणा आ जाती है अपनी मां से कहती है कि मैंने मां आपके लिए एक साड़ी रखी है आप उसे पहन लेना मैं अभी उसे लेकर आती हूं जवानी अपनी मां से कहती है कि आप तैयार हो जाइए प्रेरणा दी की खुशी के लिए प्रेरणा की वजह से तैयार होने के लिए राजी हो जाती है।

पार्टी जैसे ही शुरू होती है तभी वहां पर थोड़ी देर के बाद प्रेरणा और शिवानी अपनी मां के साथ पहुंच जाते हैं अनुराग जैसे ही उन सब को देखता है निवेदिता और मोहिनी उन सब के पास चले जाते हैं और मोहिनी रीना की मां को अपने साथ वहां से ले जाती है और निवेदिता शिवानी और प्रेरणा को अपने साथ तभी वहां पर अनुपम अनुराग के पास आ जाता है थोड़ी देर के बाद वहां पर क्लाइंट आ जाते हैं अनुराग वहां पर निवेदिता और प्रेरणा को बुला लेता है अनुराग उन दोनों को क्लाइंट से मिलवा ता है।

Advertisement