Kasauti Zindagi Ki – Written Update – 27 November 2019

Kasauti Zindagi Ki Written Update 27 November 2019 एपिसोड में आप सब देखेंगे कि कैसे प्रेरणा रॉनित की सगाई में पहुंच जाती है तभी वहां पर शिवानी प्रेरणा के पास आती है और शिवानी सा प्रेरणा को सारी बातें बता देती है कि मैंने देखा था कि सोनालिका ने रॉनित की आंखों में काजल लगाए थे इसका मतलब सोनालिका ही कामोलिका है हमारा शक अब यकीन में बदल चुका है तभी प्रेरणा कहती है कि अब हमें आगे का कदम बढ़ाना चाहिए और सोनालिका को ढूंढना चाहिए तभी शिवानी मना करती है कि हमें ऐसा नहीं करना चाहिए बल्कि हमें तो यहां से चलना चाहिए तभी प्रेम कहती है कि नहीं हमें यहां से नहीं जाना चाहिए बल्कि उसकी सच्चाई तो सारे घर वालों के सामने मुझे लानी होगी ।

प्रेरणा शिवानी से कहती है कि हमें सोनालिका को इधर-उधर ढूंढना होगा तो उधर जाकर ढूंढ में उधर जाकर ढूंढती हूं तभी दोनों से सोनालिका को ढूंढने के लिए लग जाते हैं सोनालिका को जब दोनों ढूंढ रहे होते हैं तब फ्रेंडों को सोनालिका दिखाई दे जाती है और वह सोनालिका को देखती है कि सोनालिका रोने से बात कर रही है और रोने से सोनालिका कहती है कि अब मैं यहां से चलती हूं तभी उसे याद आता है कि वह अपना फोन कमरे में बुलाई है सोनालिका रोने से कहती है कि मैं अपना फोन तो कमरे में ही भूल चुकी हूं मैं अभी अपना फोन लेकर आती हूं सोनालिका कमरे में चली जाती है वहां पर रॉनित भी आ जाता है तभी प्रेरणा कमरे में जाते और सोनाली का हाथ पकड़कर उसे एक थप्पड़ मार देती है सोनाली का यह सब देख कर चौक जाती है।

प्रेरणा जैसे ही सोनालिका को थप्पड़ मारती है तभी सोनालिका प्रेरणा से कहती है कि यह क्या बदतमीजी है सभी प्रेरणा सोनालिका से कहती है कि मैं तुम्हारे बारे में सब कुछ जान चुकी हूं क्यों कमालिका तभी सोनालिका यह बात सुनकर चौक जाती है और प्रेरणा से झूठ बोलती है कि वह यहां पर सिर्फ अपनी फ्रेंड के नाते से यहां पर आई है क्योंकि जो जिस लड़की की सगाई हो रही है वह उसकी फ्रेंड है तभी फ्रेंड कहती है कि वह तुम्हारी फ्रेंड नहीं है अगर वह तुम्हारी फ्रेंड है तो तुम यहां पर रोने की आंखों में काजल क्यों लगा रही थी तभी सोनालिका यह बात सुनकर चौक जाती है प्रेरणा सोनालिका से कहती है कि अब मैं तुम्हारी यह सारी सच्चाई सारे घर वालों को बता दूंगी तभी सोनालिका कहती है कि यह क्या बकवास से बातें कर रही हो मैं सोनाली का ही हूं और जे आखिर कोमोलिका है कौन तभी रॉनित प्रेरणा को रोकने की कोशिश करता है।

Also Read – Kasauti Zindagi Ki Written Update 27  November 2019 in Hindi

प्रेरणा रोने से चुप रहने के लिए कह देती और कहती है कि मैं सिर्फ सोनालिका से ही बात कर रही हूं इसमें तुम ना पढ़ो तो अच्छा ही होगा तभी तो रोने चुप हो जाता है थोड़ी देर के बाद प्रेरणा जब सोनाली पर इल्जाम लगा रही होती है तभी सोनालिका गुस्से में आ जाती हो प्रेरणा से गुस्से में कह देती है कि हां तुमने सही समझा कि मैं ही कमालिका हूं लेकिन अफसोस की बात है तुम अब किसी को यह बात सारी बातें बता नहीं पाओगे क्योंकि अब तुम यहां से कभी भी नहीं जा पाओगे तभी सोनालिका वहां से जब जा रही होती है तभी वह रोने से इशारे में मीणा को खत्म करने के लिए बोल देती है और वहां से सोनालिका कमरे से बाहर चली जाती है रॉनित प्रेरणा को मारने की कोशिश करता है उसे गले से पकड़ लेता है।

शिवानी सोनालिका को कमरे से बाहर निकलता हुआ देख लेती है और वह कमरे में जा रही होती है तभी सोनालिका को शिवानी दिखाई दे जाती है तभी वह रुक जाती और कहती है कि इसकी बहन और और सोनालिका कमरे में आ जाती है और शिवानी को रोकने की कोशिश करती है तभी शिवानी रॉनित के सिर पर फूलदान से वार कर देती है जिसकी वजह से रॉनित नीचे गिर जाता है शिवानी अपनी बहन को लेकर वहां से भाग जाती है दरवाजे को लॉक करके शिवानी और प्रेरणा गाड़ी में बैठती और वहां से निकलने की कोशिश करती है रॉनित और सोनालिका कमरे से बाहर निकलते हैं और प्रेरणा को इधर-उधर दूध ढूंढना शुरू कर देते हैं तभी सोनालिका को कोई बताता है कि बाहर वह लड़की भाग कर गई है तभी प्रेरणा को ढूंढने के लिए सोनालिका और रॉनित बाहर आ जाते हैं दूसरी गाड़ी को लेकर प्रेरणा के पीछे निकल जाते हैं प्रेरणा शिवानी से कहती है कि हमें यह सारी बातें घर वालों को बता दूंगी तभी शिवानी और प्रेरणा गाड़ी में बैठते हैं और गाड़ी को स्पीड से चलाने लगते हैं तभी प्रेरणा जब गाड़ी को चला रही होती है शिवानी प्रेरणा से कहती है कि आप ध्यान रखिए कि आप प्रेग्नेंट है।

प्रेरणा शिवानी से कहती है कि अब मैं अपने बच्चे के बारे में नहीं बल्कि अनुराग के बारे में ही सोच रही हूं मुझे अनुराग को यह सारी बातें बतानी होगी शिवानी और प्रेरणा गाड़ी को स्पीड से लेकर जा रहे होते हैं सोनालिका भी स्पीड से गाड़ी को लेकर जा रही होती है रोनित वन को उन दोनों पर चला देता है लेकिन उन दोनों की गाड़ी को कुछ भी नहीं होता तब इस रॉनित सोनालिका सी कहता है कि दी गाड़ी को जरा हौले चलाइए वरना हमारा भी एक्सीडेंट हो सकता है सोनालिका रॉनित की एक भी नहीं मानती और स्पीड से गाड़ी चलाना शुरु कर देती है और दूसरे रोड से अपनी गाड़ी को निकाल लेती है तभी रॉनित सोनालिका से कहता है कि आप यह क्या कर रही है वह हम से आगे निकल जाएंगे तभी सोनालिका रोने से कहती है कि हम दूसरे रास्ते से जा रहे हैं ताकि हम उनके सामने आ सके रॉनित और सोनालिका प्रेरणा का हाईवे पर इंतजार कर रहे होते हैं तभी वहां पर प्रेरणा और शिवानी आनी गाड़ी के साथ वहां पर पहुंच जाते हैं।

सोनालिका को देखकर दोनों ही चौक जाती हैं और अपनी गाड़ी को पीछे करने लगती है सोनाली का स्पीड से गाड़ी को चलाने लगती है तभी प्रेरणा की गाड़ी पीछे अटक जाती है तभी वह गाड़ी रुक जाती है इतनी देर में सोनालिका अपनी गाड़ी को लेकर जाती है गाड़ी को ठोक देती है उस गाड़ी में घायल हो जाते हैं शिवानी और रॉनित गैरों सो जाते हैं प्रेरणा शिवानी को उठाती है शिवानी गाड़ी से निकलती है और पढ़ना की मदद करने कर देती है कि भी आप अनुराग को सारी बातें बताने के लिए जहां से निकल जाइए जब तक मैं यहीं पर हूं तभी प्रेरणा टैंपू को लेती है और वहां से निकल जाती है सोनालिका गाड़ी से निकलती है और वहां पर एक डंडा पड़ा रहता है उसे अपने हाथों में लेकर शिवानी के सिर पर मार देती है शिवानी भाई पर गैरों सो जाती है सोनालिका प्रेरणा के पीछे अनुराग के घर पहुंच जाती है।

प्रेरणा अनुराग कर जाती है और चिल्लाते हुए अनुराग को आवाज लगाने लगती है अनुराग प्रेरणा के रिज्यूम देख रहा होता है तभी उसे पुरानी बातें थोड़ी थोड़ी याद आने लगती है प्रेरणा अनुराग को जवाब आज दे रही होती है तभी वहां पर मोहिनी पहुंच जाती है और प्रेम से कहती है कि इतनी तेज हल्ला क्यों कर रही हो तभी प्रेरणा मोहिनी को सारी बातें बता देती है कि जो सोनालिका इस घर में रह रही है असल में वह सोनालिका नहीं बल्कि अमोलिका है मोनी यह बात सुनकर चौक जाती है और प्रेरणा से कहती है कि यह क्या बकवास बातें कर रही हो वह हमारे घर की बहू है तभी बाबर सोनालिका आ जाती है और मोहिनी के सामने ड्रामा करने लगती है कि पता नहीं यह जाने कैसी बातें कर रही है कामोलिका आखिर है कौन मैं जानती हूं कि यह सब क्यों कह रही है ताकि अनुरागी जी करीब जा सके क्योंकि इसने मुझे खुद बताया था कि यह अनुराग से प्यार करती है कि नहीं प्रेरणा के पास जाती है और कहती है कि तुम अपनी हरकतों से बाज नहीं आओगी और तुमने सोनालिका को अनुराग और तुम अपने बारे में सब कुछ बता दिया।

प्रेरणा मोहिनी से कहती है कि अगर आप मेरी बात नहीं सुनेंगे और आपको मेरी बात पर भरोसा नहीं है तो मैं उसे अपनी बात बताऊंगी जिसे मेरी बात पर भरोसा है प्रेरणा अनुराग की कमरे में जाती है और दरवाजे को लॉक कर लेती है मोहिनी और सोनालिका कमरे को खोलने की कोशिश करती है तभी अनुराग वहां पर प्रेरणा को देख कर चौक जाता है तभी प्रेरणा अनुराग से कहती है कि तुम हमेशा मुझसे पूछते हो कि इन 2 सालों में हम दोनों के बीच में कोई बातें हुई है या नहीं लेकिन मैं इस बात का कोई जवाब नहीं देती लेकिन मैं अब तुम्हें जवाब दे रही हूं हम दोनों एक दूसरे से हिंदू सवालों में बहुत ज्यादा प्यार करते हैं जब भी मैं तुम्हें छोटी हूं तो तुम्हें कुछ फील होता है तभी अनुराग कहता है कि नहीं मैं कंफर्टेबल रहता हूं तभी प्रेरणा कहती है कि वह इसलिए क्योंकि हम दोनों एक दूसरे से बहुत ज्यादा प्यार करते हैं और हम दोनों की शादी होने वाली थी शादी वाले दिन ही तुम मेरे लिए मंदिर से चुन्नी को लेने के लिए चले गए थे और तुम वापस ही नहीं आए और 1 महीने के बाद जब तुम वापस आए तो तुम्हारी याद आ जा चुकी थी और तुम सोनालिका के साथ ही यह गरबा इस आए थे और सोनालिका हमारे घर में रह रही है सोनालिका नहीं बल्कि कामोलिका है।

Add Comment