Kasauti Zindagi Ki – Written Update – 25 December 2019

Kasauti Zindagi Ki Written Update 25 december 2019 Episode में आप सब देखेंगे कि कैसे सोनालिका प्रेरणा को दोबारा वीडियो कॉल करती है वह प्रेरणा उस फोन को उठा लेती है और वीडियो कॉल पर सोनालिका प्रेरणा की हंसी उड़ाने लगती है कि मैं तुम्हें वीडियो कॉल इसलिए कर रही हूं ताकि मैं तुम्हें सब कुछ लाइव दिखा सकूं अभी अनुराग वॉशरूम में है और वॉशरूम साउंड प्रूफ है इसीलिए हम दोनों की बातें नहीं सुन सकता थोड़ी देर के बाद अनुराग वॉशरूम से निकल रहा होता है तभी सोनालिका प्रेरणा से कहती है कि मैं अब इस आवाज को बंद कर देती हूं ताकि कोई भी तुम्हारी आवाज ना सुन पाए और तुम डिस्टर्ब भी ना कर पाऊं सोनालिका आवाज को बंद कर देती है और प्रेरणा को अनुराग को दिखाने लगती है सोनालिका अनुराग को बाहर निकालती है और उसके करीब जाने की कोशिश करती है प्रेरणा आवाज लगाकर अनुराग से कहती है कि अनुराग सोनालिका से दूर हटो लेकिन अनुराग उसकी आवाज नहीं सुन पाता सोनालिका अनुराग का फायदा उठाने लगती

Advertisement

Also Read – Kasauti Zindagi Ki 25 December 2019 Latest News

Advertisement

अनुराग अपने वश में नहीं होता सोनालिका उसे बेड पर बिठा देती है और प्रेरणा के पास आती है और प्रेरणा से कहती है कि अब मैं तुम्हें सब कुछ तो नहीं दिखा सकती इतना कहकर सोनालिका फोन को काट देती है प्रेरणा यह सब देख कर चौक जाती है सोनालिका अनुराग की जा रही होती है तभी अनुराग सोनालिका का हाथ झटक देता है तभी सोनालिका कहती है कि मुझे थोड़ा सा इंतजार करना होगा दवाई का असर और भी ज्यादा हो जाएगा सोनाली का इंतजार करने लगती है।

शिवानी ड्रामा कर रही होती है गुंडे से बात करने का तब यह वहां पर रॉनित यह सब खड़े होकर सुन रहा होता है और चिंता करने लगता है अपनी बहन की और कहता है कि मुझे किसी भी कीमत पर दी को बचाना ही होगा और मैं दी को बचाने के लिए अभी निकल जाता हूं और देखो बचा लेता हूं रॉनित वहां से अपनी बहन को बचाने के लिए निकल जाता है तभी वहां पर प्रेरणा शिवानी के पास आ जाती है शिवानी से पूछती है कि क्या हुआ हमारा काम हुआ या नहीं तभी जवानी कहती है कि हां मैं लगातार जहां पर गुंडे से बात करने की एक्टिंग कर रही थी तो औरों ने अपनी बहन को बचाने के लिए निकल गया है सिर्फ प्रेरणा कहती है कि हमें भी जल्दी से यहां से निकलना होगा प्रेरणा और शिवानी जब गाड़ी में जब जा रही होती है तभी शिवानी कहती है कि आगे का क्या प्लान है आखिर वह गुंडा बनेगा कौन तभी प्रेरणा शिवानी से कहती है कि कोई और नहीं बल्कि तू ही वह गुंडा बनेगी प्रेरणा कहते है के लेकिन हमें रॉनित से पहले वहां पर पहुंचना ही होगा रॉनित तो उस होटल में पहुंच जाता है और अपनी गाड़ी को होटल के सामने खड़ा कर देता है लेकिन वहां के गार्ड उनसे कहता है कि सर आपको यहां से गाड़ी हटानी होगी रॉनित अपनी गाड़ी के पास जाता है और गाड़ी को लॉक कर देता है प्रेरणा और शिवानी इतनी देर वहां पर पहुंच जाते हैं और चुपचाप अंदर चले जाते हैं थोड़ी देर के बाद रॉनित जब उसके पास आता है गांड कहता है कि सर मैंने आपको गाड़ी लॉक करने के लिए नहीं कहा बल्कि यहां से हटाने के लिए कहा है यहां पर और लोगों को भी प्रॉब्लम होगी रोनित कहता है कि इतनी सारी जगह तो पड़ी है सिर्फ मेरी गाड़ी सही प्रॉब्लम होगी गार्ड कहता है कि नहीं सर अगर यहां पर मेरे मालिक आ गए तो मुझे इस नौकरी से निकाल देंगे इसलिए आपको यह गाड़ी हटा नहीं होगी मैं आपको अंदर नहीं जाने दे सकता ।

Advertisement

रॉनित उसे चाबी को गांड को दे देता है और उसे कहता है कि ठीक है तो इस गाड़ी को यहां पर तुम्हें लगाना है वहां पर लगा दो और अंदर चला जाता है अंदर जाकर देखता है कि शिवानी गुंडे के भेष में होती है रॉनित तो उसे पीछे से देख लेता है और उसे गुंडा समझकर उसका पीछा करने लगता है शिवानी रॉनित को अनुराग के कमरे के पास जब ले जा रही होती है प्रेरणा इतनी देर में रिसेप्शन पर आती है और उनसे कहती है कि आपको जल्दी से फोन करना होगा पुलिस को क्योंकि यहां पर मेरे एक सारे हैं अनुराग बासु और सोनालिका बासु उनकी जान को खतरा है यहां पर कोई उन्हें मारने के लिए आया है रिसेप्शन जो लड़का बैठा होता है वह प्रेरणा से मना कर देता है कि मैडम ऐसा नहीं हो सकता हमारे होटल में कोई भी ऐसे क्राइम नहीं होते हैं प्रेरणा कहती है कि अगर मेरे सर को कुछ भी हो गया तो इसका इल्जाम आपके सर ही आएगा मैं आपको छोडूंगी नहीं मैंने सब कुछ इस फोन में रिकॉर्ड कर लिया है आप यहां पर पुलिस नहीं बुलाते हो और मेरे सर के साथ अगर कुछ हो गया तो इसके जिम्मेदार सिर्फ आप ही रहेंगे इतनी देर में वह लड़का डर जाता है और पुलिस वालों को फोन कर देता है

शिवानी रॉनित को सोनालिका के कमरे के पास ले कर चली जाती है और वहां से कमरे में घुसकर कहीं जाती है वहां पर रॉनित आ जाता है और कमरे की तरफ देखता है और कहता है कि यहां पर तो वह दिखाई नहीं दे रहा है मुझे लगता है वह अंदर जा चुका है मुझे भी अंदर जाकर दी को बचा लेना चाहिए। सोनालिका अनुराग के करीब जाने की कोशिश करती है तभी वहां पर रॉनित थे डोरबेल को बजाने लगता है सोनाली के कहती है कि यह कौन आ गया और दुर्बल को जाकर सोनालिका बंद कर देती है सोनालिका जोशी डोरबेल को बंद करती है तभी रॉनित कहता है कि यह पता नहीं डोरबेल बंद क्यों हो गई है अब तो यकीन हो गया है कि अंदर वही गुंडा है और मुझे दी को बचाना ही होगा दी बहुत बड़ी मुसीबत में है सोनालिका अनुराग के करीब जाने की कोशिश करती है तभी रॉनित खिड़की के जरिए वहां पर आ जाता है और सोनालिका उसे देख कर चल जाती है और उसे कोने में ले जाकर उससे कहती है कि तुम यहां पर क्या कर रही हो तुम इतनी बदतमीज हो कि तुम्हें यह नहीं पता कि यह कमरा तुम्हारी बहन और तुम्हारी जीजू का है और तुम यहां पर कर क्या रहे हो रॉनित अपनी बहन से कहता है कि दी आपने मोबाइल क्यों बंद करके रखा है मैं कितनी देर से आपको कॉल कर रहा था सोनालिका कहती है कि मैंने फोन बंद करके रखा था क्योंकि मैं अनुराग के साथी रॉनित सोनालिका से कहता है कि आपकी जान को खतरा है कोई आपको मारना चाहता है यही बात बताने के लिए यहां पर आया हूं इतनी देर में दरवाजे पर कोई आ जाता है रोनित सोनालिका से कहता है कि देखा दी दरवाजे पर जरूर वही गुंडा है जो आप को मारने के लिए यहां पर आया है आप दरवाजे मत खोलिए गा इतनी तेरे मैं वहां पर किसी का कॉल आ जाता है सोनालिका उस फोन को उठाती है और फोन को पिकअप करके रॉनित को बताती है कि दरवाजे पर कोई गुंडा नहीं है बल्कि मैनेजर है सोनालिका रॉनित को वॉशरूम में रहने के लिए बोल देती है और दरवाजा खोलने के लिए चली जाती है सोनालिका जैसे ही दरवाजे को खोल कर देती है वहां पर प्रेरणा को देख कर चौक जाती है।

सोनालिका प्रेरणा से कहती है कि तुम यहां पर क्या कर रही हो इतनी देर में वहां पर पुलिस वाले और मैनेजर आ जाता है और सोनालिका को बताते हैं कि यहां पर कोई आप दोनों को मारने के लिए आया है इसलिए हमने यहां पर पुलिस को बुलाया है प्रेरणा नाटक करने लगती है और सोनालिका से कहती है कि मैडम आपको यहां पर कोई मानने के लिए आया है मुझे इस बात की खबर मिली थी इसलिए मैं यहां पर पुलिस को लेकर आई हूं ताकि वह अच्छी तरीके से इस कमरे की तलाशी ले सके पुलिस वाले कमरे की तलाशी लेने लगते हैं सोनालिका पुलिस वालों से कहती है कि मैं वॉशरूम में हूं जब तक आप तलाशी ले लीजिए सोनालिका वॉशरूम में चली जाती है प्रेरणा अनुराग के पास जाती है और उसे उठाने की कोशिश करती है सोनालिका वॉशरूम में जाती है वहां पर जाकर रॉनित को एक जोरदार थप्पड़ मार देती है रॉनित सोनालिका से कहता है कि आप मुझसे बात भी कर सकती थी आपने मुझे थप्पड़ क्यों मारा सोनालिका रॉनित को कहती है कि पुलिस आई है रॉनित सोनालिका कहता है कि मैंने पुलिस वालों को नहीं बुलाया है सोनालिका कहती है कि मैं जानती हूं तुझे पुलिसवाले तुमने नहीं बुलाए हैं बल्कि प्रेरणा नहीं बुलाई है रॉनित कहता है कि मैं तो दी आपको यहां पर बचाने के लिए आया था क्योंकि प्रेरणा ने किसी को सुपारी दी थी आप को मारने के लिए सोनालिका कहती है कि तुम कितने बड़े बेवकूफ हो और प्रेरणा की बातों में आ गए तुम इतना भी नहीं जानते की प्रेरणा कभी भी ऐसी हरकतें नहीं करेगी तुम अपना दिमाग नहीं चला सकते थे क्या अगर तुम्हें यहां पर पुलिस वालों ने देख लिया तो मैं उनसे क्या कहूंगी कि तुम मेरे भाई हो और अनुराग को अगर पुलिस वालों ने फोटो दिखाकर तुम्हारे बारे में पूछा तो अनुराग तो तुम्हें पहचान जाएगा क्योंकि उस ड्राइवर के साथ अनुराग ने तुम्हें देख लिया है मैं सच बता रही हूं अगर पुलिस वालों ने तुम्हें पकड़ा तो मैं तो मना कर दूंगी कि मैं नहीं जानती तुम कौन हो और मैं तुम्हारी बेल देने के लिए भी वहां पर नहीं आऊंगी सोनालिका इतना कहकर वहां से निकल जाती है और पुलिस वालों से कहती है कि अब तो आप को तसल्ली हो गई कि यहां पर कुछ भी नहीं है प्रेरणा वहां पर आती है पुलिस वालों से कैसी है कि नहीं सर आप दोबारा इस कमरे की अच्छे से तलाशी ले लीजिए।

Advertisement