Kasauti Zindagi Ki Written Update 1st November 2019

Kasauti Zindagi Ki Written Update 1 November 2019 में आप सब देखेंगे कि कैसे मूलोए अनुराग को आकर बताइए देते हैं कि मेरा दोस्त राजेश अब इस दुनिया में नहीं रहा है यह बात सुनकर अनुराग चौक जाता है अनुराग कहता है कि यह सब कैसे हुआ मूलोए बताते हैं कि जो एक्सीडेंट मेरे साथ हुआ था उसी का गाड़ी में राजेश भी बैठा हुआ था जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई मोहिनी यह बात सुनकर हैरान रह जाती है अब बात को संभालने के लिए अनुराग से कहती है कि लेकिन अब सब कुछ ठीक है।

Advertisement

कामोलिका इतनी देर में सीढ़ियों से उतर कर नीचे आ रही होती है तभी पूरे घर में पूजा की धूप दी जा रही होती है सीना उसको जैसे ही देखती और कहती है कि फिर से यह सब चालू हो गया पूरे घर में ऐसे ही दी जा रही है कि भगवान आज ही धरती पर उतर कर आने वाले हैं इसके बाद कामोलिका जैसे ही सारे घर वालों के पास जाने की कोशिश करती है इतनी देर में आएगी भाई की पत्नी कामोलिका को अपने पास बुलाती है और देवी की आरती करने के लिए कह देती है सीना देवी की आरती करने लगती है मोहिनी कामोलिका को आरती करते हुए देखती है तो और भी ज्यादा खुश हो जाती है ।

Advertisement

कामोलिका सारे परिवार के साथ आकर बैठती है तभी मोहिनी अनुराग से कहती है कि तुम दोनों को शादी के बाद कुल देवी के मंदिर में जाना है मैंने पंडित जी से सारी बातें कर ली है वह सारी तैयारी करके ही रखेंगे लेकिन अनुराग जाने से मना कर देता है तभी सीना कहती है कि जब मैं इतना कह रही है तो हमें चलना चाहिए क्योंकि मां हमेशा राइट ही होती है यह बात सुनकर मोहिनी के दिल में और भी ज्यादा कामोलिका के लिए जगह बन जाती है अनुराग कामोलिका के साथ जाने के लिए तैयार हो जाता है।

प्रेरणा उसी मंदिर में देवी के सामने प्रार्थना कर रही होती है कि किसी न किसी तरह भगवान मुझे आगे का कोई रास्ता दिखाइए मैं आपसे इस बात के लिए तो धन्यवाद करती हूं कि आपने अनुराग को पूरी तरह से ठीक कर दिया है लेकिन मैं अब आगे क्या करूं मुझे कुछ तो रास्ता दिखाई है इतनी देर में अनुराग वहां पर पहुंच जाता है पर पड़ती है अनुराग को वहां पर देखकर प्रेरणा हैरान हो जाती है अनुराग पंडित जी के पास जाते हैं पंडित जी अनुराग से कहते हैं कि मुझे मोहिनी जी ने सारी बातें बता दिया और मैंने पूजा की सारी तैयारी भी करके रखी है आप उन्हें बुला लीजिए ।

Advertisement

अनुराग कामोलिका को वहां पर इशारे से बुला रहा होता है तभी प्रेरणा को गलतफहमी हो जाती है कि अनुराग उसे सारा कर रहा है तभी एक कदम आगे बढ़ाती है इतनी देर में वहां पर कामोलिका आ जाती है प्रेरणा के नजर से से उस पर पड़ती है तभी वह अपने कदम को पीछे ले लेती है कामोलिका अनुराग के पास जाकर खड़ी हो जाती है प्रेरणा जब अनुराग और कामोलिका को एक साथ देती है तभी वह परेशान हो जाती है और कहती है कि मेरा रुकना सही नहीं है अनुराग अगर मुझे देखेगा तो परेशान हो जाएगा इसने मुझे यहां से जाना चाहिए।

Also Read – kasauti zindagi ki written update in hindi 31 अक्टूबर 2019 : Rajesh Ke Maut Ka Khulasa

प्रेरणा इसके बाद खिड़की के पास जाकर खड़ी हो जाती है और अनुराग और कामोलिका को देखने लगती है पंडित जी अनुराग और कामोलिका से कहते हैं कि तुम्हें देवी की तीन परिक्रमा करनी होंगी अनुराग और कामोलिका परिक्रमा करने लगते हैं अनुराग को एहसास होता है कि कोई शायद उसे देख रहा है अनुराग रुक कर पीछे की तरफ देखने लगता है इतनी देर में प्रेरणा छुप जाती है पंडित जी अनुराग से कहते हैं कि तुम ऐसे ही रुकना नहीं चाहिए था अब जो पूजा खंडित हो चुकी है अनुराग कहता है कि मैं अब नहीं रुकूंगा पंडित जी परिक्रमा करने से मना कर देते हो और अनुराग से कहते हैं कि अभी पूजा दोबारा से स्टार्ट होगी अनुराग यह बात सुनकर चौक जाता है तभी सिया पंडित जी से कहती है कि पंडित जी हम ही पूजा और प्रकरण माय दोबारा जरूर करेंगे।

पंडित जी अनुराग से कहते हैं कि दान का सामान सारा आ चुका है आप सिर्फ दान कर दीजिए अनुरा कहता है कि हां यह सब तो मैं कर सकता हूं तभी अनुराग बाहर दान करने के लिए आता है और गरीबों को जब दान कर रहा होता है तभी वहां पर पेन्ना जा रही होती है और प्रेरणा की पल्लू अनुराग के ऊपर से होता हुआ जाता है अनुराग यह सब देख कर चौक जाता है और प्रेरणा को रोक लेता है तब कहती है कि अनुराग ने देख लिया तो पता नहीं वह क्या सोचने लगेगा इसलिए मुझे झांसी चलना चाहिए तभी प्रेरणा वहां से चली जाती है।

अनुराग और कामोलिका गाड़ी में बैठे हैं प्रेरणा उसी गाड़ी के आगे चल रही होती है तभी ड्राइवर का ध्यान नहीं होता और वह प्रेरणा के ऊपर गाड़ी चढ़ा देता है जिसकी वजह से प्रेन्ना के पैरों में चोट लग जाती है इतनी देर में वहां पर भीड़ जमा हो जाती है अनुराग गाड़ी से उतरने की कोशिश करता है ड्राइवर अनुराग को रोक लेता है और कहता है कि सामने देखता हूं तभी वह ड्राइवर बार निकलता है और प्रेरणा से माफी मांगने लगता है इतनी देर वहां पर भी ड्राइवर पर बर्फ पड़ती है प्रेरणा कहती है कि गाड़ी मैं तो अनुराग बेटा हुआ है मुझे लड़ाई को रोकना चाहिए अगर अनुराग ने मुझे देख लिया तो पता नहीं क्या हो जाएगा।

अनुराग थोड़ी देर में गाड़ी से उतरता है और कहता है कि मैं अभी जा कर देखता हूं तभी अनुराग गाड़ी से उतर जाता है और कामोलिका भी गाड़ी से उतर जाती है तभी कामोलिका की नजर प्रेरणा पर पड़ जाती है और वह कहती है कि प्रेरणा तो यहीं पर है तभी वह डर जाती है अनुराग आगे बढ़ता है और प्रेरणा को वहां पर देख लेता है लेकिन प्रेरणा को देखकर वह हैरान रह जाता है लेकिन अनुराग को कुछ भी याद नहीं आ पाता तभी वह प्रेरणा को देखकर कहता है कि तुम दूर राजेश अंकल की बेटी हो प्रेरणा हम दोनों एक दूसरे को अच्छी तरीके से जानते हैं आप सब यहां से चले जाइए अनुराग प्रेरणा से कहता है कि तुम्हारे पैरों में चोट तो नहीं लगी है तभी फ्रेंड कहती है कि नहीं मैं ठीक हूं मैं चली जाऊंगी अनुराग कहता है कि नहीं तुम्हारे पैरों में चोट लगी है मैं तुम्हें तुम्हारे घर तक छोड़ देता हूं ।

प्रेरणा अनुराग से मना कर देती हो और रात में कहती है कि नहीं मैं चली जाऊंगी मैं अभी ठीक हूं फ्रेंड है जैसे यह कदम को आगे बढ़ाती है लेकिन वह चल नहीं पाती तभी अनुराग प्रेरणा से कहता है कि तुम चल भी तो नहीं पा रही हो तुम्हारे पैरों में चोट लग चुकी है मैं तुम्हें घर छोड़ देता हूं लेकिन प्रेरणा उसकी बात नहीं मानती तभी अनुराग कहता है कि मुझे मजबूरी में यह सब करना पड़ेगा आई एम सॉरी तभी फ्रेंड है यह बस उनका चौक जाती है अनुराग प्रेरणा को अपनी गोद में उठा लेता है और गाड़ी में बिठा देता है प्रेरणा अनुराग को देखने लगती है।

अनुराग प्रेरणा को जैसे ही गाड़ी में बैठता है और पीछे की तरफ बैठने की कोशिश करता है तभी जिला वहां पर आ जाते हैं और अनुराग से कहती है कि तुम आकर बैठ जाओ मैं उनके साथ बैठ जाती हूं तभी कामोलिका प्रेरणा के पास जाकर बैठ जाती है और कामोलिका प्रेरणा से पूछती है कि क्या तुम ठीक हो तभी प्रेरणा कहती है कि हां मैं ठीक हूं अनुराग प्रेरणा से पूछता है कि क्या तुम ठीक हो प्रेरणा बताती है कि हां मैं ठीक हूं अनुराग प्रेरणा को घर लेकर चला जाता है प्रेरणा जैसे ही गाड़ी से उतरती है लेकिन वह चल नहीं पाती तभी अनुराग प्रेरणा से कहता है कि तुम्हें मुझे लगता है अभी ठीक नहीं हूं कामोलिका अपने मन में कहती है कि अब क्या गोद में उठाकर घर के अंदर लेकर जाओगे तभी अनुराग प्रेरणा को अपने गोद में उठा लेता है और घर के अंदर लेकर चला जाता है कामोलिका यह सब देख कर चौक जाती है।

Advertisement